पूर्व पाकिस्तानी आलराउंडर शाहिद अफरीदी, मौजूदा वक़्त में नी इनजूरी के कारण क्रिकेट से बाहर वक़्त बिता रहे हैं. उन्होने बताया कि कैसे उन्हे बूम बूम नाम मिला और किस भारतीय खिलाड़ी ने उन्हे यह नाम दिया.

 

अफरीदी को उनके गगनचुंबी हीटींग के कारण बूम बूम का नाम मिला था, उन्होने एकदिवसीय क्रिकेट में सबसे ज्यादा छह मारे हैं.

 

अफरीदी ने एक सवाल जवाब सत्र रखा, जिसका हैशटैग था #asklala. उन्होने ट्विटर पर अपने कई फैंस के सवालों के जवाब दिये.

 

एक फैन ने काफी इंटरेस्टिंग सवाल पूछा, उन्होने पूछा कि आपको यह नाम किसने दिया. 38 वर्षीय खिलाड़ी ने बताया कि रवि शास्त्री ने उन्हे बूम बूम का नाम दिया था.

 

बूम बूम का मतलब होता है, पावर हिट.

 

रवि शास्त्री पूर्व कमेंटेटर भी रह चुके हैं और वे अपने वनलाइंस और रिमार्क के लिए जाने जाते हैं. शास्त्री मौजूदा वक़्त में भारतीय टीम के मुख्य कोच हैं, और वे इंग्लैंड बनाम भारत की सीरीज में कार्यरत हैं.

 

अफरीदी सीपीएल में जमैका तल्लावस की टीम से जुड़ने वाले थे, पर उन्होने खुद को प्रतियोगिता से बाहर कर लिया ताकि वे नी इनजूरी से उबर पाएं.

 

शाहिद अफरीदी ने 2017 में क्रिकेट से सन्यास ले लिया था और वे वर्ल्ड एलेवन के लिए खेलने के लिए कुछ समय के लिए वापस आये थे. अफरीदी अब अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट नहीं खेलते पर वे टी20 लीग खेलते रहते हैं.

 

अफरीदी का पदार्पण केन्या के खिलाफ 1996 में हुआ था और उन्होने अपने करियर में कुल 350 विकेट लिए और टी20 क्रिकेट में 98 विकेट के साथ वे टॉप पर हैं.