विराट कोहली का मानना है कि यदि वे रन बनाते है या नहीं इससे टीम के प्रदर्शन पर कोई खासा फर्क नहीं पड़ेगा. अगर भारत जीतता है तो उनके रन बने या ना बने इससे उन्हे कोई परवाह नहीं. वहीं इंग्लैंड के तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन का कहना है कि भारतीय कप्तान झूठ कह रहे हैं कि उनकी निजी फ़ॉर्म मैटर नहीं करती. गौरतलब है कि टेस्ट सीरीज की शुरुआत एक अगस्त से निश्चित है.

कोहली के बयान पर प्रतिक्रिया मांगे जाने पर एंडर्सन ने कहा कि, “अगर वे ऐसा कह रहे है कि उनके रन बनाने से टीम के प्रदर्शन में फर्क नहीं पड़ेगा तो वे निश्चित ही झूठ बोल रहे हैं.” 2014 के इंग्लैंड दौरे में भारत की ओर से खेलते हुए कोहली ने केवल 134 रन बनाए थे, जिसमे उन्होने 5 टेस्ट मैच खेले थे. यह उनका अबतक का सबसे खराब प्रदर्शन था. पर उसके बाद कोहली ने भारत के दौरे पर आई इंग्लैंड टीम के खिलाफ मेजबानी करते हुए कुल 655 रन बनाए थे, पर फिर भी इस सीरीज में अच्छा प्रदर्शन कर वे अपने रिकॉर्ड को मजबूत करना चाहेंगे.

सीरीज की शुरुआत से पहले कोहली ने कई सवालों का जवाब देते हुए, कहा कि उनकी निजी फ़ॉर्म से टीम की जीत या हार का कोई लेना देना नहीं है टीम में और भी खिलाड़ी है, और जीत या हार का फैसला पूरी टीम के प्रदर्शन से होता है.
एंडर्सन ने कहा कि, ” इंग्लैंड में जितना इंग्लैंड के लिए बहुत जरूरी है. विराट अपनी टीम के लिए रन बनाएंगे, यह तो निश्चित है. और हम सब यही उम्मीद करते है विपक्षी कप्तान और विश्व के सबसे अच्छे बल्लेबाज से.”

35 वर्षीय एंडर्सन ने कोहली को 6 बार मे से 4 बार खुद आउट किया था. जेम्स ने कोहली को अबतक कुल पांच बार आउट किया है. जेम्स को भारत दौरे पर काफी संघर्ष करना पड़ा था, उन्होने तीन मैच में केवल चार विकेट हासिल किए थे.
एंडर्सन ने कहा कि,” खिलाड़ी मैच के बाद फूटेज देख कर अपनी गलतियों का विश्लेषण करते है, और सीखते हैं. मैं भी कोहली से उम्मीद कर रहा हूं कि 2014 के बाद एक लंबा समय बिताने के बाद वे काफी कुछ सीख चुके होंगे.”

“मैं निश्चित हूँ कि वे अभ्यास में जोर शोर से पसीना बहा रहे होंगे ताकि, उनके और मेरे बीच का मुकाबला दर्शनीय हो. ”
गौरतलब यह है कि इंग्लैंड में गर्मियों का मौसम चल रहा है, जो कि भारतीय टीम के लिए अनुकूल है.