बेन स्टॉक इंग्लैंड क्रिकेट टीम में वापसी करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं. गौरतलब है कि उन्हे कोर्ट से रिहाई मिल चुकी है. उन्हे किसी भी तरह के विवाद में दोषी नहीं पाया गया है. उनके टीम में आने से दो मैच पहले ही जीत चुकी टीम को काफी मजबूती मिलेगी.

 

बड़ा प्रश्न यह निकलकर सामने आया है कि बेन स्टॉक को रिप्लेस करने वाले क्रिस वोक्स ने दूसरे टेस्ट मैच में शतक लगाया था और काफी शानदार गेंदबाजी भी की थी. इस तरह से उन्होने खुद को तीसरे टेस्ट के लिए शामिल कर लिया.

 

 

कयास लगाए जा रहे थे कि स्टॉक या तो जोस बटलर को रिप्लेस करेंगे या वे अदिल राशिद की जगह टीम में शामिल हो सकते हैं. लेकिन इंग्लैंड के टीम मैनेजमेंट ने यह साफ कर दिया कि बेन स्टॉक सैम करन की जगह टीम में शामिल किये जायेंगे, और सैम को बाहर बैठना पड़ेगा.

 

यह फैसला करन के लिए काफी बुरा है क्यूंकि करण को पहले मैच के लिए मैन ऑफ द मैच से नवाजा गया था. उन्होने मुख्य मौकों पर टीम के लिए प्रदर्शन किया. पहली पारी में करन ने भारतीय ऊपरी क्रम की धज्जियां उड़ाते हुए 73 रन देकर चार विकेट लिये थे. इंग्लैंड की दूसरी पारी में जब इंग्लैंड तेजी से विकेट खो रहा था तब उन्होने 63 रन बनाये.

 

उन्होने दूसरे मुकाबले में भी प्रभावी प्रदर्शन किया और 40 रन बनाये.

 

इंग्लैंड के पास अनेकों विकल्प होने के कारण सैम प्लेयिंग एलेवन में शामिल होने में नाकाम हुये. जेम्स एंडर्सन और स्टुअर्ट ब्रॉड की तेज गेंदबाजी की काफी जरूरत है और जो रूट एक स्थान स्पिन गेंदबाज के लिए बूक रखना चाहते हैं. क्रिस वोक्स ने तीसरे तेज गेंदबाज के रूप में खुद को स्थापित कर लिया है और बटलर को टीम मैनेजमेंट समय देना चाहती है. अब केवल एक स्थान बचता है जो सैम करन ने लिया है और स्टॉक उसी जगह पर खेलेंगे.