इंग्लैंड ने 4-1 से टेस्ट श्रृंखला जीती 

 

भारत बनाम इंग्लैंड टेस्ट श्रृंखला के आखिरी मुकाबले में इंग्लैंड ने शानदार अन्तर से जीत हासिल की. गौरतलब है कि आखिरी मुकाबले में 118 रनों से जीत दर्ज करके इंग्लैंड ने श्रृंखला पर 4-1 से कब्जा कर लिया.

 

आखिरी दिन के आखिरी सत्र तक के एल राहुल और विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने संघर्ष किया पर दुर्भाग्यवश मैच बचाने में नाकामयाब रहे. गौरतलब है कि दोनों बल्लेबाजों की जुझारू पारियां व्यर्थ हुईं और टीम को एक और हार से बचा पाने में वे नाकाम रहे. दोनों बल्लेबाजों ने छठे विकेट के लिए कुल 204 रन जोड़े और साझेदारी के दौरान इंग्लिश गेंदबाजों को जमकर छकाया. लेकिन इन दोनों की पारियों के उलट कोई भी अन्य बल्लेबाज क्रीज पर देर तक नहीं टिक पाया, जिसके कारण अंत में भारत की हार हुई.

 

राहुल और पंत के शतक 

 

भारत के लिए बल्लेबाजी की दूसरी पारी की शुरुआत काफी खराब रही और भारत ने 2 रन के कुल अंक पर तीन विकेट खो दिये. यह तीन विकेट शीर्ष क्रम के मुख्य बल्लेबाजों, शिखर धवन, विराट कोहली और चेतेश्वर पुजारा के थे. ये तीनों क्रमशः 1,0,0 के निजी स्कोर पर आउट हुए. सलामी बल्लेबाज के एल राहुल दूसरे छोर पर खड़े रहे.

 

शीर्ष क्रम के ध्वस्त होने के बाद, अजिंक्य रहाणे के साथ के एल राहुल ने साझेदारी बनाई और दोनों बल्लेबाजों ने 106 गेंदों पर 36 रन जोड़े. उनकी बढ़ती हुई साझेदारी पर 118 रन पर विराम लगा. अजिंक्य रहाणे के आउट होने के बाद, राहुल का सबसे ज्यादा साथ विकेटकीपर बल्लेबाज पंत ने दिया और दोनों बल्लेबाजों ने 204 रनों की साझेदारी बनाते हुए, शतक लगाए.

 

के एल राहुल ने करियर का पांचवा शतक लगाया. उनकी पारी में 20 चौके और 1 छक्का शामिल थे. यह इंग्लैंड की जमीन पर उनका पहला शतक था और सुनील गावस्कर और शिखर धवन के बाद चौथी पारी में शतक लगाने वाले वे तीसरे बल्लेबाज हैं. ऋषभ पंत ने 146 गेंदों पर  114 रन बनाये, और उनकी पारी में 15 चौके और 4 छक्के शामिल थे. इस शतक के बाद वे इंग्लैंड में शतक लगाने वाले पहले विकेटकीपर बल्लेबाज बन गये.