पूर्व भारतीय खिलाड़ी संदीप पाटिल ने कहा कि पाकिस्तान और भारत के बीच क्रिकेट जारी रखना चाहिए पर बहादुर सैनिकों की कीमत पर नहीं. पाटील ने कहा कि हर दूसरे भारतीय की तरह वह भी यही चाहते हैं कि भारत और पाकिस्तान के रिश्तों के बीच सुधार हो पर अंतिम फैसला हमेशा दोनों देशों की सरकारों का ही होता है.

 

पाकिस्तानी खिलाड़ियों से अब भी दोस्ती है : संदीप पाटिल 

 

एक ऑनलाइन पोर्टल के लिए लेख लिखते हुए पाटिल ने उनकी मौजूदगी में पाकिस्तान और भारत के बीच हुए मुकाबलों का जिक्र किया. वे कहते हैं कि उन्होने पाकिस्तान का दौरा दो बार किया.
1982 के दौरे के दौरान पाटिल पाकिस्तान में कुल 85 दिनों के लिए थे. पर पाटिल के अनुसार उन्हे उस दौरान एक बार भी यह महसूस नहीं हुआ कि वे किसी दूसरे देश में हैं. उन्होने बताया कि पाकिस्तान के लोगों ने उनका हार्दिक स्वागत किया, हालांकि वे टेस्ट श्रृंखला में बुरी तरह हार गए थे पर वे कई सारी अच्छी यादें लेकर भारत लौटे थे.

 

पाटिल ने आगे बताया कि काफी समय गुजर चुका है पर पाकिस्तानी खिलाड़ियों से उनकी दोस्ती अब भी वैसी ही है.
पाटिल ने एशिया कप में कोहली की गैर मौजूदगी पर सवाल खड़े किए

 

मौके पर ही पाटिल ने एशिया कप में कोहली की गैर मौजूदगी पर भी सवाल खड़े किए. उन्होने कहा कि यह काफी महत्वपूर्ण प्रतियोगिता है.
पाटिल ने कपिल देव का उदाहरण देते हुए कहा कि उन्होने लगातार 15 सालों तक टीम के लिए गेंदबाजी, बल्लेबाजी और फील्डिंग की. और कपिल से जब भी आराम के लिए पूछा जाता तो वे कहा करते थे कि देश के लिए खेलते समय आप आराम के बारे में नहीं सोच सकते.

 

पाटिल ने आईपीएल पर निशाना साधते हुए कहा कि जबसे टी20 लीग शुरू हुई हैं खिलाड़ी इन महंगी महंगी लीग के लिए खुद को फिट रखने के लिए, राष्ट्रीय टीम से खुद को दूर कर लेते हैं.

 

गौरतलब है कि पाकिस्तान और भारत एक बार फिर एशिया कप के सुपर फोर स्टेज में 23 सितंबर को आमने सामने होंगी.