हर भारतीय फैन की तरह आप भी जानते होंगे कि भारतीय टीम में फ़िटनेस काफी जरूरी मानी गई है. अंततः जो भी टीम में आने की कोशिश करता है वह फ़िट न होने के कारण चूक जाता है. ऐसा अंबाती रायडू के साथ हुआ जब वे फिटनेस टेस्ट पास नहीं कर पाये.

 

बैंगलोर में पोस्ट मैच कॉन्फ्रेंस में बात करते हुए उन्होने कहा कि, वे खुद से काफी निराश थे क्योकि वे यह टेस्ट पास नहीं कर पाये थे. टेस्ट न पास कर पाने के कारण उन्हे इंग्लैंड के खिलाफ सीमित ओवर की टीम से निकाल दिया गया था. उन्होने आगे कहा कि उन्हे आगे प्रोसीजर में जगह नहीं मिली क्योकि भारतीय टीम में फिटनेस काफी जरूरी है.

Image credit @PTI

उन्होने आगे कहा कि वे फिटनेस टेस्ट पास कर पाने में नाकामयाब थे. इस निराशा ने उन्हे आगे मेहनत करने के लिए प्रेरित किया.
रायडू ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत ए की तरफ से 62 रन बनाए और टीम को जीत दिलाई. जब उनसे भारतीय टीम में न पहुंच पाने का कारण पूछा गया तब उन्होने यह बताया. रायडू ने कहा कि उन्हे फिर कॉल अप मिला है और वे काफी उत्सुक हैं.

 

टेस्ट का स्तर काफी हाई है और प्रारूप काफी कड़ा है. अंबाती काफी खुश है क्योकि भारतीय टीम में अतिरिक्त खिलाड़ी भी इतने फिट हैं.

Image credit @Twitter

इंटरव्यू के दौरान उनसे हनुमा विहारी के टीम में शामिल होने पर बात की गई. उन्होने कहा कि वे उनके लिए और पृथ्वी शा के लिए काफी खुश हैं. उन्होने कहा कि वे हनुमा का खेल इतना ज्यादा नहीं देख पाये थे, पर युवा बल्लेबाज के चयन को लेकर वे खुश हैं.

 

अपने करियर के विषय में उन्होने कहा कि एक खिलाड़ी के तौर पर वे काफी बदले हैं. 16 साल के करियर में हर दिन उन्होने खुद को सुधारा है. अंत में उन्होने कहा कि उनके लिए भारत के लिए दुबारा खेलना काफी गर्व का विषय होगा.