क्रिकेट के मैदान पर कई बार ऐसा हुआ है जब फैंस बीच मैच में अपने पसंदीदा क्रिकेटर से मिलने आए हों। हालांकि, इससे क्रिकेटर को परेशानी जरूर होती है। और उनके जान को खतरा भी हो सकता है। लेकिन, क्रिकेट का क्रेज ही कुछ ऐसा है। बीते दिनों टीम इंडिया के हिटमैन कहे जाने वाले रोहित शर्मा के साथ एक अजीब वाकया हुआ।

दरअसल, विजय हजारे ट्रॉफी मैच के दौरान रोहित शर्मा बिहार के खिलाफ बल्लेबाजी करने उतरे थे। तभी मैदान में रोहित शर्मा का बड़ा फैन  घुस आया। सभी को लगा कि वो रोहित के साथ सेल्फी वगैरह लेगा। लेकिन, उस फैन ने तो हद ही पार कर दी।  गले लगकर उसने रोहित को चूमना चाहा। हालांकि, उस फैन ने सबसे पहले रोहित के पैर छुए थे। इसके बाद टीम इंडिया के स्पिनर युजवेंद्र चहल ने चुटकी लेते हुए लिखा,” रितिका भाभी, ये क्या हो रहा है? ये क्या हो रहा है?”

 

कोहली के साथ भी हुई ये घटना

आपको बता दें, ठीक ऐसा ही वाकया अभी हाल ही में हैदराबाद टेस्ट में भी देखने को मिला। जब एक क्रिकेट फैन भारत के कप्तान विराट कोहली के गले पड़ गए। इसके बाद उसने जबरदस्ती कोहली को किस करना भी चाहा। इस तरह की घटना बीते दिनों में तीन बार हुई है। इससे पहले राजकोट टेस्ट में भी क्रिकेट फैन मैदान में घुस आया था। और जबरदस्ती कोहली के साथ सेल्फी लेने लगा था। सुरक्षा के नजरिये से देखा जाए तो एक शर्मनाक घटना है। ऐसे में खिलाड़ी के सुरक्षा पर सवाल खड़ा होता है।

(Photo Credit: Twitter)

 

अब्बास अली बेग को किया था एक लड़की ने ‘किस’

वैसे जानकारी के लिए आपको बता दूँ, भारत के अब्बास अली बेग एकमात्र ऐसे क्रिकेटर हैं। जिनको बीच मैच में किसी लड़की ने आकर किस किया था। ये किस्सा साल 1960 का है। तब मुंबई के ब्रेबोर्न स्टेडियम में भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच मैच खेला जा रहा था। तीसरे टेस्ट के पांचवें दिन भारत के सबसे हैंडसम और स्टाइलिश बल्लेबाजों में से एक अब्बास अली बेग क्रीज पर मौजूद थे।

अब्बास पहली पारी में अर्धशतक लगा चुके थे। दूसरी पारी में भी जब उन्होंने 50 रन बनाए तो न जाने कैसे दर्शक दीर्घा से एक लड़की मैदान में कूदी और दौड़ते हुए अब्बास अली बेग के पास पहुंची। फिर तड़ से उनके गाल पर चुंबन जड़ दिया। ये खूबसूरत नजारा देख दुनिया हैरान रह गयी। उस समय जाने माने क्रिकेटर विजय मर्चेंट इस मैच की कमेंट्री कर रहे थे। उन्होंने मजाकिया लहजे में चुटकी लेते हुए कहा, ”ये लड़कियां तब कहां चली गईं थीं, जब हम शतक लगा रहे थे।”