पांड्या ने याद किया अपना टेस्ट डेब्यू

मुझे अपने टेस्ट पदार्पण पर गर्व है : हार्दिक पांड्या

 

2017 में श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट सीरीज का पहला मुकाबला भारत ने गल्ले में बड़ी आसानी से 304 रन से जीत लिया था. इसी मैच में पदार्पण किया था हार्दिक पांड्या ने. इस मैच में पदार्पण करते हुए हार्दिक ने एक आक्रामक अर्ध शतक बनाया था.

 

चेतेश्वर पुजारा से बात करते हुए पांड्या कहते है कि उन्हे कैसा लगा टेस्ट में पदार्पण करके. बल्लेबाज ने पदार्पण मैच के अगले ही मैच में 1 ओवर में 26 रन ठोक कर भारत की ओर से एक ओवर में सबसे अधिक रन बनाए थे. नंबर आठ पर खेलते हुए यह पांड्या का भारत के लिए सबसे तेज शतक था. टीम के सभी खिलाड़ियों ने शतक के उपरांत खड़े होकर पांड्या के लिए तालियां बजाई थी.
बीसीसीआई ने किया बल्लेबाज को प्रोत्साहित 
बीसीसीआई ने बल्लेबाज को बधाई देते हुए एक विडियो पोस्ट की जिसमे वे शतक लगा रहे थे.

पांड्या के शतक की बदौलत भारत ने पल्लेकेले में कुल 487 रन का लक्ष्य खड़ा किया था. पांड्या 93 गेंद पर 108 रन बनाकर नाबाद रहे. भारत पहले ही वह सिरीज जीत चुका था. गौरतलब है कि भारत ने उस मैच के पहले के दो मैच जीते थे. खेलने की क्षमता के बारे में पूछे जाने पर पांड्या ने कहा कि, ” एक अन्तराष्ट्रीय खिलाड़ी के तौर पर, आपको चालक होना पड़ता है. खेल के हर प्रारूप में खेलने के लिए आपके पास ज्यादा सामर्थ्य होने चाहिए. मैंने टेस्ट में जैसे बल्लेबाजी की मैं एकदिवसीय में भी वैसे ही बल्लेबाजी करता हूं. आप समय लेते है ताकि गेंदबाजी और बल्लेबाजी को प्रारूप के अनुसार ढाल सकें. “

 

अपनी प्रेरणा और मोटिवेशन के बारे में पूछे जाने पर पांड्या कहते हैं कि,” मैं जब छह साल का था तब मेरा भाई कुणाल पांड्या क्रिकेट खेलता था. तब किरण मोरे जी ने मुझे क्रिकेट में करियर बनाने की सलाह दी थी. “

 

टेस्ट सीरीज 1 अगस्त से शुरू होगा. 

 

भारत अपना पहला टेस्ट मैच बर्मिंघम में एक अगस्त से खेलेगा. उसके बाद दूसरा टेस्ट लॉर्डस में अगस्त 9 से और तीसरा टेस्ट ट्रेंट ब्रिज में 18 अगस्त से खेला जाएगा. उसके बाद नई टीम की घोषणा की जाएगी.

Previous Article
Next Article

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *