भारतीय टीम एशिया कप 2018 में अपने अभियान की शुरुआत मंगलवार, 18 सितंबर को एशिया कप क्वालिफायर 2018 की विजेता टीम हॉन्गकॉन्ग के खिलाफ करेगा। इस मुकाबले के अगले ही दिन यानी 19, सितंबर बुधवार को
अपने चीर-प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के खिलाफ मुकाबले के लिए उतरेगा।

भारतीय टीम की कप्तानी उप कप्तान रोहित शर्मा करेंगे। ज्ञात हो की नियमित कप्तान विराट कोहली को एशिया कप 2018 के लाए आराम दिया गया है और टीम की कप्तानी रोहित शर्मा को सौंपी गयी है। विराट किहली को आराम
देने की एक बड़ी वजह इंग्लैंड के खिलाफ हाल ही में संपन्न हुआ दौरा है और इसके बाद फिर भारतीय टीम ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर भी जाने वाली है।

Image result for india vs pakistan asia cup stats

एशिया कप 2018 में भारत के आगामी 2 मैच से जुड़े कुछ संख्यात्मक विश्लेषण-

1- ही बार भारतीय टीम ने एशिया कप में हॉन्गकॉन्ग टीम के खिलाफ मैच खेला है।

256 रन- 2008 में जब भारत और हॉन्गकॉन्ग की टीमें एशिया कप में भिड़ी थी तब भारत ने हॉन्गकॉन्ग को 256 रन के बड़े अंतर से हराया था। उस मैच में महेंद्र सिंह धोनी 96 गेंद में 109 रन की पारी खेली थी।

12- बार भारत और पाकिस्तान की टीमें एशिया कप में आमने सामने हुई है।

6- बार भारत ने अबतक खेले 12 मुकाबले में जीत हासिल किया है जबकि 5 बार मैच पाकिस्तान के पाले में गया है। एक मैच बिना नतीजे के रहा था।

4- बार भारत-पाकिस्तान की टीमें 2010 एशिया कप से आमने सामने हुई है।

3- मुकाबलो में भारतीय टीम ने जीत हासिल की है जबकि 2014 में अफरीदी के अश्विन ओर लगाए छक्के से एक मैच पाकिस्तान के खाते में गया है।

459 रन- विराट कोहली ने अंतिम 12 मुकाबले में पाकिस्तान के खिलाफ हासिल किए हैं। कोहली, जो की इस एशिया कप में नही खेल रहे हैं उनको आराम दिया गया है, उनका निजी हाई स्कोर 183 रन 2012 में पाकिस्तान के खिलाफ
ही आया था।

437 रन- मोहम्मद हाफिज जो की मौजूदा पाकिस्तानी टीम का हिस्सा नही हैं, वह पाकिस्तान की ओर से एशिया कप में सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं।

11 विकेट- भारत के प्रमुख गेंदबाज, भुवनेश्वर कुमार एशिया कप में पाकिस्तान के खिलाफ सर्वश्रेष्ठ गेंदबाजी रिकॉर्ड का दावा करते हैं। भुवी ने सात खेलों में कुल 11 विकेट लिए हैं।

20 विकेट: -अनुभवी ऑफ स्पिनर सईद अजमल पाकिस्तान के लिए अग्रणी विकेट लेने वाले हैं। ऑफ स्पिनर ने 9 खेलों में 20 विकेट लिए।

6:-भारत एशिया कप इतिहास में छः खिताब (5 ओडीआई और 1 टी 20) के साथ सबसे सफल पक्ष है जबकि पाकिस्तान ने दो बार (2000 और 2012) जीता है।