इंग्लैंड क्रिकेट टीम के एक पूर्व कप्तान माइकल एथर्टन ने आईपीएल (IPL) को अंतराष्ट्रीय क्रिकेट के लिए
नुकसानदायक बताया। माइकल एथर्टन ने कहा की जब की आईपीएल क्रिकेटरों को एक बड़ा मंच प्रदान करता है
तथा इसमें पैसे की भी भरमार है लेकिन इस दौरान एक और बात देखने को मिली की आईपीएल अंतराष्ट्रीय क्रिकेट में
नकारात्मक प्रभाव डाल रहा है।

माइकल एथर्टन ने यह बातें लॉर्ड्स में भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली के किताब ' ए सेंचुरी इस
नॉट इनफ' के लॉन्चिंग के मौके पर कही। इस मौके पर इंग्लैंड के एक और पूर्व खिलाड़ी माईक गेटिंग और श्रीलंकाई
टीम के पूर्व खिलाड़ी और महान बल्लेबाज़ कुमार संघककारा भी मौजूद थे।

आईपीएल क्रिकेट के लिए हानिकारक

माइकल एथर्टन ने कहा की क्रिकेट आज बर्बाद हो रहा है इसके लिए आईपीएल ही ज़िम्मेदार है। एथर्टन ने वर्टमाम
समय में टेस्ट क्रिकेट के भविष्य को ले कर बात करते हुए कहा की T20 जो की धीरे धीरे और लोकप्रिय होता जा रहा है
और खिलाड़ियों को नए मौके और अच्छी कमाई दे रहा है इस दौर में भी इंग्लैंड में टेस्ट क्रिकेट खेले जा रहे हैं।

उन्होंने कहा की भारत में खास कर टेस्ट मैच के दौरान मैदान में दर्शक नही रहते हैं और मैदान खाली रहता है। भारत
में टेस्ट मैच के दौरान मैदान दर्शकों से खाली देख कर दुख होता है लेकिन हमें दिमाग में रखना चाहिए की वहां के
मैदान काफि बड़े होते हैं। उन्होंने कहा की टेस्ट क्रिकेट को हमेशा पसंद किया गया है और अभी भी किया जा रहा है
और हमें लगता है की ऐसा आगे भी जारी रहेगा।

इस मौके पर सौरव गांगुली ने टेस्ट क्रिकेट की बचाने और दर्शकों की इससे जोड़ने के लिए दिन- रात वाले टेस्ट क्रिकेट
की वकालत की। गांगुली ने कहा की एक कामकाजि व्यक्ति के लिए अपने काम से दूर हो कर दिन भर टेस्ट मैच
देखने के लिए सारा दिन मैदान में बैठे रहना काफी कठिन है इसलिए ज़रूरी है की रात दिन के टेस्ट पर ज़ोर दिया
जाए।