हेम्पशायर के कप्तान जेम्स विंस को भारत के खिलाफ तीसरे  अंतराष्ट्रीय ए‍कदिवसीय मुकाबले के लिए इंग्लिश टीम में शामिल कर लिया गया है. यह मुकाबला मंगलवार को हेडिंगलि में खेला जाएगा.
इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड नें विंस के टीम में शामिल करने की खबर की पुष्टि की है, और कहा है कि इससे डेविड मलन को लायंस की ओर से खेलने के लिए समय मिलेगा.
गौरतलब यह है कि इंग्लैंड की ए साइड भारत ए के खिलाफ एक चार दिवसीय मुकाबला सोमवार से वुरकास्टर में खेलेगी.
इंग्लैंड नें सैम करन को भी टीम से बाहर किया है ताकि वे भारत ए के खिलाफ खेल सकें. सैम करन नें अपना पदार्पण पाकिस्तान के खिलाफ हेडिंगलि में किया था. हो सकता है कि सैम के लिए टेस्ट मैच में मौका हो क्यूकी बेन स्टोक टेस्ट मैच खत्म होने के एक दिन पहले तक ट्रायल में व्यस्त रहेंगे.
मलन नें पाकिस्तान के खिलाफ दोनों टेस्ट मैचों में  कोई खास प्रदर्शन नहीं किया था, लेकिन फिर भी उन्हें एक मिडिल ऑर्डर बल्लेबाज के रूप में टीम में जगह मिल सकती है.
मलन ने मिडिलेक्स की ओर से अबतक केवल चार मुकाबले खेले हैं, और उन चारों में उन्होने तीन बार शून्य और एक बार दो रन का स्कोर किया था.
डेविड मलन को इंग्लैंड की टीम में एलेक्स हेल्स के कवर के रूप में जगह मिली थी.
 इंग्लैंड की ए साइड की ओर से खेलने के बाद, वो वार्विक्सर के खिलाफ एक चैंपियनशिप में  शिर्कत करेंगे. यह चैम्पियनशिप भारत के खिलाफ टेस्ट मैच की शृंखला के पहले ही ख़त्म हो जाएगी.
मलन की तरह, विंस के प्लेयिंग ग्यारह में शामिल होने के चांस लगभग न के बराबर हैं. क्यूकी वह एक उपरी क्रम के बल्लेबाज हैं, और इंग्लैंड के उपरी क्रम के सभी मुख्य  बल्लेबाज उपलब्ध हैं और फिट हैं. उन्हें उनके शानदार प्रदर्शन के कारण टीम में जगह दी गई है, गौरतलब है कि रायल लंदन कैम्पेन में में उन्होने कुल 527 रन बनाये थे और हैम्पशायर को कप तक पहुंचाया था.
विंस नें खराब प्रदर्शन के चलते सीजन की शुरुआत में टेस्ट में अपनी जगह खो दी थी, और उन्हें एकदिवसीय मुकाबले खेलने का आखिरी मौका 2016 में बांग्लादेश के खिलाफ मिला था जब हेल्स और मोर्गन दोनों ने उस शृंखला में भाग लेने से मना कर दिया था.