भारतीय स्पिन गेंदबाज रविचंद्रन अश्विन चौथे टेस्ट के लिए पूरी तरह फिट घोषित कर दिए गए हैं, विराट कोहली ने वीरवार के मुकाबले के लिए ना बदली हुई टीम खिलाने के अंदेशे दिए हैं.

 

भारतीय टीम पिछले 45 टेस्ट में बदली गई है, कोहली ने अपनी कप्तानी में 38 खेले गए मुकाबलों, 38 अलग टीम चुनी. हालांकि इस मैच के लिए उन्होने कहा कि इस बार वे कोई बदलाव नहीं करना चाहते, न कि किसी बदलाव की जरूरत है.

 

टीम के बारे में बात करते हुए कोहली ने कहा कि, ” हर कोई इंग्लैंड के खिलाफ मुकाबला शुरू करने के लिए तैयार है. अश्विन भी रिकवरी कर चुके है और वे अब खेलने के लिए स्वस्थ हैं.”

 

कोहली ने आगे कहा कि, ” मैंने कोई भी अनवांटेड बदलाव नहीं किए है. कई खिलाड़ी टीम में चोटिल है, पर खेलने की भावना इन सबसे ऊपर है. दरअसल यह मिली जुली रणनीति है. सब कुछ अच्छा जा रहा है और हम ज्यादा कुछ नहीं सोच रहे इस बारे में.”

 

भारत चौथा टेस्ट मैच साउथंपटन में खेलेगा. इसी जगह पर जब आखिरी बार, भारत और इंग्लैंड का मुकाबला हुआ था तब इंग्लैंड 266 रन से हार गया था.

 

2014 की भारतीय टीम के बारे में कोहली ने कहा कि वह एक अनुभवी टीम नहीं थी, जितने के लिए उन्हे उतने मौके नहीं मिले.

 

“मुझे जहां लगता है कि विजयी अभियान को आगे बढ़ाने के लिए हमारे पास पर्याप्त अनुभव नहीं है, लॉर्ड्स की जीत से हमें आत्मविश्वास मिला है.”
“हम दो मुकाबले हार गए थे, सभी को लग रहा था कि हम सिरीज से बाहर हो जाएंगे, पर हमने वापसी की.”

 

भारतीय तेज गेंदबाजों के बारे में कोहली ने कहा कि,” आपको अच्छा लगता है जब आपके गेंदबाज अच्छा कर रहे होते हैं. 800 या 1000 रन बनाना तभी फायदेमंद है जब आप विकेट नहीं लेते. “

 

रोज बाउल के इस मैदान पर अब तक केवल दो मुकाबले खेले गए हैं, यह तीसरा मुकाबला होगा.