विराट कोहली के सभी फैंस जानते होंगे कि वे कभी भी सेम प्लेयिंग एलेवन को नहीं खिलाते. यह एक तरह से कोहली का हस्ताक्षर बन चुका है. वे हर मुकाबले से पहले एक बदलाव तो करते ही हैं. चौथे मुकाबले से पहले भारतीय प्रशंसक भी ऐसा ही सोच रहे होंगे. पर मैच से पहले की प्रेस कॉन्फ्रेंस में, कोहली ने यह अंदेशा दिया कि वे इस बार कोई बदलाव नहीं करने वाले.

 

सभी को लग रहा था कि रविचंद्रन अश्विन को टीम से निकाला जायेगा और उनकी जगह किसी और को टीम में शामिल किया जायेगा. गौरतलब है कि अश्विन चोटिल हो गए थे इसीलिए उनके बाहर होने के कयास लगाए जा रहे थे, लोग इस पर चर्चा कर रहे थे कि क्या अश्विन चौथा मुकाबला खेलेंगे या नहीं. कोहली ने पत्रकारों से कहा कि अश्विन खेलने के लिए फिट हैं. उन्होने अश्विन के बारे में यह भी कहा कि वे अच्छे से अभ्यास कर पा रहे हैं और नेट्स पर भी काफी गेंदबाजी कर चुके हैं. इन बातों का अर्थ निकलता है कि अश्विन खेलने के लिए तैयार हैं.

 

उनसे उनकी बदलाव नीति के बारे मे पूछे जाने पर उन्होने कहा कि वे यूँही बदलाव नहीं कर सकते. यह नीति चोटिल खिलाड़ियों को आराम देने के लिए है, और परिस्थिति को परखने के लिए है. एक और बार जब कोहली ने यह अंदेशा दिया, जब उन्होने कहा कि हमें बदलाव की कोई आवश्यकता नहीं है, सबकुछ ठीक है.

 

उन्होने कहा कि पूरी टीम उत्सुक है. हमारी जीत काफी अच्छे वक़्त पर आई जब सभी को लग रहा था कि हम सिरीज गवां देंगे. शानदार प्रदर्शन के कारण, भारत ने 203 रनों से जीत हासिल की.

 

कोहली ने कहा कि एक खिलाड़ी के तौर पर वे किसी भी मोमेंट को कैरी करने में असमर्थ हैं. उन्होने ट्रेंट ब्रिज में जीत हासिल की, और टीम जानती है कि दो बार अभी और जीतना है.

 

हार के बाद इंग्लैंड भी तगड़ी वापसी कर सकती है, इंग्लैंड सीरीज जीतने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगा देगी, इस पर कोहली ने कहा कि, ” हम अच्छा खेलेंगे और ट्रेंट ब्रिज से अच्छा प्रदर्शन करेंगे.”

 

कोहली ने गेंदबाजों पर कहा कि अगर बल्लेबाज 800-1000 रन बनाए तो भी वे नहीं जीत सकते जब तक कि 20 विकेट न लिये जाएँ. जीत तभी हासिल होती है जब दोनों विभाग अच्छे से प्रदर्शन करते हैं. इसी कारण टीम गेंदबाजों पर ज्यादा फोकस कर रही है.

 

तेज गेंदबाजों की तारीफ करते हुए कोहली ने कहा कि भारत का तेज गेंदबाजी विभाग विश्व की किसी भी अन्य टीम के मुकाबले अच्छा है. वे जब अच्छा करते हैं, भारत कहीं भी जीत सकता है. उन्होने यह भी कहा कि उन्हे 5 गेंदबाजों के साथ खेलने पड़ रहा है क्योकि 20 विकेट लेना यहां काफी मुश्किल है.

 

अंत में कोहली ने कहा कि, मैच से पहले सब रूझान होते हैं बस. आप केवल पिच के बारे में जान सकते हैं. मौसम के लिए कुछ भी कहना असंभव है. परिस्थिति हर घंटे बदलती है.