October 15, 2018
| On 3 महीना ago

#MeToo: बीसीसीआई सीइओ राहुल जौहरी पर लगे यौन उत्पीड़न का आरोप

By Vandana Mrigwani

#METOO

मी टू अभियान की शुरुआत बॉलीवुड में तब हुई थी जब अभिनेत्री तनुश्री दत्ता ने दिग्गज अभिनेता नाना पाटेकर पर यौन उत्पीड़न के आरोपी लगाए थे| उनका कहना था कि नाना ने सेट पर एक फ़िल्म की शूटिंग के दौरान दुर्व्यवहार किया था| इसके बाद मी टू अभियान क्रिकेट जगत में भी कई खुलासे कर रहा है| गौरतलब है कि इसके अलावा कई राजनेता और अन्य क्षेत्र के लोगों का भी इसमें नाम आया है| गौरतलब है कि राजनेता एम जे अकबर और डाइरेक्टर साजिद खान उसके लेटेस्ट खुलासे हैं|

 

क्रिकेट जगत में ऐसा पहली बार भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के चेयरमैन राहुल जोहरी के खिलाफ हुआ| एक गुमनाम सूत्र से उनपर यौन शोषण के आरोप लगे| गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा बनाई गई सीओए ने राहुल जोहरी से सब कुछ स्पष्ट करने की मांग की है| उन्हे इसके लिए कोई निश्चित समय नहीं दिया गया है|

 

आरोप 

हरनिध कौर नाम की एक लेखिका ने ट्विटर पर लिखा कि वह अपनी पहचान नहीं बताना चाहती| लेखिका के अनुसार जिस लड़की के साथ राहुल ने यौन उत्पीड़न किया वह अपनी पहचान को गुमनाम रखना चाहती है ताकि उसे किसी भी प्रकार की कोई परेशानी का सामना न करना पड़े| पीड़ित ने कहा कि वह वाकये के वक़्त डिस्कवरी चैनल का हिस्सा थी|

 

लोधा कमिटी की सलाह मानने के बाद राहुल जोहरी भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के पहले सीईओ हैं| जोहरी ने इससे पहले डिस्कवरी चैनल के साथ 2001 से 2016 तक काम किया था| इसके बाद उन्हे भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड का सीईओ बनाया गया|

हालांकि यह मामला बीसीसीआई से जुड़ा हुआ नहीं है तब पर भी सीओए ने इस मामले में गौर किया है क्यूंकि राहुल जोहरी बीसीसीआई से जुड़े हुए हैं| सीओए ने कहा कि राहुल को सफाई देने के लिए एक हफ्ते का समय दिया गया है| भविष्य में वे बीसीसीआई से जुड़े रहेंगे या नहीं यह उनके स्पष्टीकरण पर निर्भर करता है|

 

बोर्ड की प्रतिक्रिया

 

आईसीसी द्वारा आयोजित की गई चीफ एक्जीक्यूटिव मीटिंग में जोहरी भारत की ओर से हिस्सा लेंगे| यह मीटिंग 7 अक्टूबर से 18 अक्टूबर तक चलेगी| यह मीटिंग सिंगापुर में आयोजित की जाएगी| सीओए ने कहा कि राहुल जोहरी के पद और उनकी शक्तियों को कम नहीं किया गया है| इस बारे में उनके सफाई देने के बाद सोचा जाएगा|

मौजूदा वक़्त में जोहरी को मीटिंग में हिस्सा लेने से रोक दिया गया है क्योंकि सीओए उन्हे ज्यादा समय नहीं देना चाहती| जोहरी ने अपने स्पष्टीकरण के लिए 14 दिन की मांग की थी पर सीओए ने उन्हे केवल एक हफ्ते का ही समय दिया है|

 

सीओए किसी भी तरह से इस मामले के कारण बीसीसीआई का नाम नहीं जुड़ने देना चाहता| विनोद राय ने इस पर बयान देते हुए कहा कि उन्हे मीटिंग से बुला किया गया है ताकि वे अपनी ओर से सफाई देने पर काम कर सकें| बीसीसीआई के कार्यकारी सेक्रेटरी अमिताभ चौधरी राहुल जोहरी की मीटिंग में जगह लेंगे| यह सब सीओए के अध्यक्ष विनोद राय ने कहा|
Note:-India Fantasy caters to sports enthusiasts who are willing to play on fantasy platform to win big. We provide fantasy previews for platforms such asDream11 but do not run any cash contests on our website.
Vandana Mrigwani

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked*