कर्नाटक के सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल जिन्हे वेस्ट इंडीज के खिलाफ खेलने के लिए भारतीय टेस्ट टीम में चुना गया, उन्होने बताया कि उनकी मां उनके चुने जाने की खबर सुनकर काफी भावुक हो गईं.

 

मैं पहले से जनता था बस घोषणा का इंतजार कर रहा था : मयंक 

 

बीसीसीआई के टीम की घोषणा के बाद अग्रवाल ने एक अखबार से बात करते हुए काफी कुछ कहा| उन्होने कहा कि मुझे लगता था कि मैं चुना जाऊंगा, बस मैं औपचारिक घोषणा का इंतजार कर रहा था|

उन्होने बताया कि उन्होने यह खबर टीवी पर देखी थी| उसके बाद से ही उनके फोन पर लगातार फोन आ रहे हैं| यह खबर जब उन्होने अपनी मां को बताई तो वे काफी भावुक हो गईं |

 

सलामी बल्लेबाज ने आगे बताया कि बोर्ड प्रेजिडेंट के कोच अभय शर्मा ने उन्हे यह पहले ही बता दिया था कि वे चुने गए हैं, पर वे औपचारिक घोषणा के इंतजार में थे |

 

27 वर्षीय बल्लेबाज ने कहा कि अब वे टेस्ट श्रृंखला शुरू होने के इंतजार में हैं |
अग्रवाल ने विनय कुमार को समर्थन के लिए शुक्रिया कहा |

 

अग्रवाल ने कर्नाटक के कप्तान विनय कुमार की बात करते हुए कहा कि मैं उन्हे धन्यवाद देना चाहूंगा, कई साल पहले जब मुझे रणजी टीम से बाहर कर दिया गया था तब उन्होने मुझे सपोर्ट किया और प्रेरित किया |
अग्रवाल को अच्छे घरेलू प्रदर्शन के बाद टीम में शामिल किया गया|

 

कर्नाटक के सलामी बल्लेबाज का पिछला एक वर्ष में प्रदर्शन काफी सराहनीय है. उन्होने रणजी ट्रॉफी में काफी ज्यादा रन बनाए और सय्यद मुश्ताक अली और विजय हजारे ट्रॉफी में भी उनका प्रदर्शन शानदार था|
उसके बाद उन्होने भारत ए की ओर से खेलते हुए भी काफी अच्छा प्रदर्शन किया|

 

गौरतलब है कि भारत और वेस्ट इंडीज के बीच पहला मुकाबला 4 अक्टूबर से खेला जाएगा. उसके बाद भारत ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला खेलेगा|