रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु ने पूर्व दक्षिण अफ्रीका के खिलाडी गैरी कर्स्टन को बंगलोर फ्रेंचाइजी का नया कोच चुना है.

 

पूर्व भारतीय कोच जिनके अंडर भारतीय टीम ने विश्व कप जीता था उन्हे बंगलुरु का कोच बनाया गया है.

 

आरसीबी ने औपचारिक बयान में कहा कि, “गैरी कर्स्टन जो कि 2018 में आरसीबी के बल्लेबाजी कोच थे, उन्हे 700 से ज्यादा अन्तराष्ट्रीय मुकाबले खेलने का अनुभव है और वे अन्तराष्ट्रीय क्रिकेट में 40,000 से ज्यादा रन बना चुके हैं. भारतीय टीम का हेड कोच बनने के बाद उन्होने टीम को ऊंचाइयां दिलाई थीं, वे विश्वकप विजेता टीम के कोच थे. गैरी कर्स्टन ने दक्षिण अफ्रीका के हेड कोच के रूप में दो साल कार्य किया है. वे होबर्ट हरीकेंस के हेड कोच भी रह चुके हैं.”

 

फ्रेंचाइजी ने डेनियल विटोरी को हेड कोच के पद से हटा दिया है. पूर्व न्यूज़ीलैंड के गेंदबाज 2013 से 2018 तक हेड कोच थे.
गैरी कर्स्टन से जब उनकी अपॉइंटमेंट के बारे में पूछा गया तब उन्होने कहा कि,” मैंने कोच विटोरी के साथ पिछले सीजन में कोचिंग की थी, यह शानदार अनुभव था.”

 

“मै आगे के बारे में सोच रहा हूँ, आरसीबी के साथ खेलना शानदार अनुभव है.”

 

उन्होने आगे कहा कि, ” मुझे अच्छा लग रहा है कि फ्रेंचाइजी मुझे आगे मौका दे रही है. मैंने वाले कुछ सालों में फ्रेंचाइजी के लिए सफलता लाना चाहता हूं. “

 

पूर्व रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के सदस्य ने कहा कि,” मैं काफी खुश हूं कि फ्रेंचाइजी ने मुझे इतने वक़्त सदस्य रहने का मौका दिया, एक खिलाड़ी के तौर पर, एक कोच के तौर पर मैं हर सदस्य को शुभकामनाएं देना चाहूंगा. “

 

रायल चैलेंजर्स बेंगलुरु चोकर का टैग हटा के टाइटल जीतने के लिए प्रयासरत होगी.