पूर्व भारतीय कप्तान, दिग्गज बल्लेबाज और फिलहाल भारतीय ए टीम के कोच राहुल द्रविड़ ने कहा कि भारतीय स्पिन गेंदबाज यूजवेन्द्र चहल को और टेस्ट मैच खेलने चाहिए.

 

राहुल ने कहा कि लेग स्पिनर को लंबे प्रारूप में अपनी क्षमता को तीक्ष्ण करने के लिए आगे आकर खेलना होगा, वे जितना अधिक लाल गेंद से खेलने उनका क्षमता उतनी ज्यादा होगी. राहुल ने कहा कि राष्ट्रीय चुनावकर्ता चहल को टेस्ट मैच में देश के लिए खेलते हुए देखना चाहते हैं. चहल को लगातार लंबे प्रारूप में खेलकर अभ्यास करते रहना चाहिए.

 

चहल ने खुद को सफेद गेंद के सीमित प्रारूप में साबित कर लिया है. हालिया समय में उन्हे विश्व का बेस्ट लेग स्पिनर माना जा रहा है, और अब यह समय है कि वे टेस्ट में भी खुद को साबित करें.

 

 

राहुल ने इंटरव्यू में कहा कि, भारतीय राष्ट्रीय चयनकर्ता चहल को टेस्ट टीम में खेलते हुए और कंडीशन को मैनेज करते हुए देखना चाहते हैं? उसने काफी ज्यादा नहीं खेला अब तक. वह जितना ज्यादा खेलेगा उसकी क्षमता उतनी ज्यादा बढ़ेगी. उनके पास अभी ज्यादा अनुभव नहीं है. उनकी क्षमता पर किसी को कोई शक, उन्होने खुद को सीमित ओवर के क्रिकेट में साबित किया है.

 

चहल के बारे में बात करते हुए, उन्होने मयंक और पृथ्वी की भी बात की. राहुल ने कहा कि वे दोनों काफी शानदार खेल रहे हैं, और यह हमें परिणामों से पता चल रहा है. उन्हे एक क्रिकेटर के रूप में उभरता देखना काफी खुशी भरा लम्हा हैं. मयंक शानदार हैं और पृथ्वी लगातार इम्प्रूव कर रहे हैं.

 

राहुल ने मोहम्मद सिराज पर भी बात की. गौरतलब है कि सिराज ने दक्षिण अफ्रीका ए के अनौपचारिक टेस्ट मैच में कुल 10 विकेट झटके और जिस तरह उन्होने गेंदबाजी की वह काफी शानदार रहा. पिछले 3-4 मुकाबलों में उन्होने कुल 26 विकेट लिए हैं. वह मानसिक तौर पर दिन ब दिन मजबूत हो रहे हैं. द्रविड़ ने कहा कि सिराज ने ज्यादा आईपीएल नहीं खेला है, पर वे सिख रहे हैं. राहुल ने कहा कि सिराज के बारें में इतना ही की वे जितना खेलेंगे उतना अधिक सीखेंगे.