समस्या

पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद ने एशिया कप 2018 की सभी अन्य टीमों की तुलना में अलग-अलग टीम के बारे में अपनी भावनाओं को व्यक्त किया है। अहमद ने कहा कि टीम भारत दुबई में अपने सभी मैच खेलेंगे जबकि अन्य टीमों को दुबई और अबू धाबी के बीच यात्रा करना होगा जब जब उनका मैच होगा।

शुरुवात में भारत को अबू धाबी में दो मैचों को खेलना था लेकिन फिर से शेड्यूल निर्धारित किया गया और अब भारत के सभी मैच दुबई में होंगे। जब इस बारे में पूछा गया, अहमद ने कहा कि भारत के लिए यात्रा एक समस्या नहीं होगी।

अहमद द्वारा इसे बात को लाये जाने का कारण यह था कि वह 90 मिनट की यात्रा करने की परेशानी को समझता है जब सिर्फ एक दिन के आराम के बाद मैच खेलना हो। यह परिवर्तन भारत की मदद करेगा क्योंकि उन्हें कभी भी अपना स्थान नहीं बदलना पड़ेगा और न ही यात्रा करनी पड़ेगी।

अहमद ने कहा कि नियम सभी टीमों के लिए समान होना चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि पीसीबी इस बात को देख रहा है कि एशियाई क्रिकेट काउंसिल ने यह परिवर्तन क्यों किया।

रिपोर्टों से संकेत मिलता है कि शायद बीसीसीआई इस फैसले के पीछे है जो टूर्नामेंट की मेजबानी कर रहे हैं। शायद स्टेडियम की क्षमता इसका कारण है । दुबई अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम में 25,000 व्यक्ति बैठ सकते हैं जो अबू धाबी में शेख जायद स्टेडियम से लगभग 5000 अधिक है।

भारत बनाम पाकिस्तान मैच को ध्यान में रखते हुए और साथ साथ भारत बनाम बांग्लादेश मैच में अधिक भीड़ की व्यवस्था की वजह से बीसीसीआई ने बड़े स्टेडियम में अधिक पैसे लगाने का फैसला किया होगा।