August 22, 2018
| On 7 महीना ago

सात कैच लेकर क्या राहुल ने भारत का सबसे बड़ा सिर दर्द खत्म कर दिया?

By Vandana Mrigwani
भारतीय टीम ने तीसरे टेस्ट मैच में काफी शानदार प्रदर्शन किया. बल्लेबाजों ने प्रदर्शन शुरू कर दिया है और वे रन लगातार बना रहे हैं. गेंदबाजी विभाग हमेशा की तरह शानदार है. बल्लेबाजी और गेंदबाजी से अलग फील्डिंग ने भी काफी शानदार प्रदर्शन किया गया है.

के एल राहुल ने स्लिप में रहकर सात कैच लिये है, और स्लिप कॉर्डन को मजबूती प्रदान की है.स्लिप कैचिंग में भारत के लचर प्रदर्शन के कारण ही भारत ने कई मैच हारें हैं. पिछले कई दौरों में भारत ने 50% से ज्यादा कैच छोड़ दिए हैं. स्लिप में खिलाड़ियों को बदलने से भी कोई खास असर नहीं हुआ.

तीसरे टेस्ट मैच में के एल राहुल ने दूसरी स्लिप में खड़े रहकर, लगातार सात कैच लिये. पहली पारी में राहुल ने तीन कैच लिए. पहला कैच रूट का था जो काफी विवादास्पद था, और उसके बाद राहुल ने दो और कैच लिए. दूसरी पारी में राहुल ने प्रदर्शन अच्छा करते हुए चार कैच लिये.

राहुल के अलावा अन्य स्लिप फील्डर ने भी अच्छा प्रदर्शन किया. दूसरी पारी में आदिल राशिद को आउट करने के लिए विराट ने एक बेहतरीन कैच लिया था. राहुल के शानदार प्रदर्शन से भारतीय स्लिप कॉर्डन अब काफी मजबूत लग रहा है. मौजूदा समय में भारतीय स्लिप कॉर्डन में चेतेश्वर पुजारा, पहली स्लिप मे, राहुल दूसरी स्लिप में, कोहली तीसरी स्लिप में, और रहाणे चौथी स्लिप में खड़े होते हैं.

राहुल ने फील्डिंग से रिकॉर्ड भी बनाया, वे पहले खिलाड़ी हैं जिन्होने इंग्लैंड की जमीन पर सात या उससे ज्यादा कैच लिए हैं. और भारतीय स्तर पर वे दूसरे इतने कैच लेने वाले भारतीय हैं.

हालांकि उनकी बल्लेबाजी पर अब तक प्रश्नों के घेरे हैं, पर स्लिप कॉर्डन में वे एक अच्छा विकल्प बन सकते हैं.
Vandana Mrigwani