पूर्व अंतराष्ट्रीय बल्लेबाज और कमेन्टेटर संजय मांजरेकर से जब विराट की प्रथम रैंकिंग के बारे में राय पूछी गई तब उनकी राय ने पूरे क्रिकेट जगत में सनसनी मचा दी. एक इंटरव्यू में मांजरेकर से जब विराट की बल्लेबाजी के बारे में पूछा गया तब उन्होने कहा कि विराट एक विशेष प्रतिभा है. वह केवल एक दिग्गज बल्लेबाज ही नहीं बल्कि दिग्गज बल्लेबाजों में भी अनोखा है. उसका स्थान विशेष है.

 

मांजरेकर एक डेविड रिचर्डसन ( आईसीसी के चीफ एक्जीक्यूटिव), जेसन रॉय (इंग्लिश बल्लेबाज), मार्क निकोलस ( पूर्व हैम्पशायर ब्रॉडकास्टर) के साथ एक चर्चा में जुड़े थे.

 

संजय ने विराट पर अपनी राय रखते हुए कहा कि, विराट की प्रतिभा अतुलनीय है. उन्होने भारतीय जल का उदाहरण देते हुए समझाया. लोग जिस तरह बनारस के पानी की शुद्धता की बात करते हैं, उसी तरह हर पीढ़ी में हमारे महान खिलाड़ियों की भी बात होती है. भारतीय जमीन से हर पीढ़ी में एक महान खिलाड़ी निकलता है.

 

 

मांजरेकर ने आगे कहा कि जैसे सुनील गावस्कर के 1987 में सन्यास के बाद हमें 1989 में सचिन मिले, फिर उनके सन्यास के बाद अब हमारे पास कोहली हैं, जो सबसे ज्यादा खास हैं. इंग्लैंड के खिलाफ पहले मैच में मुश्किल परिस्थितियों में रन बनाने के बाद विराट ने रैंकिंग में प्रथम स्थान प्राप्त किया. उन्होने दोनों पारियों में 149 और 51 रन बनाए. दुर्भाग्यवश भारत यह मैच इंग्लैंड से 31 रन से हार गया. पर विराट की ये पारियां यादगार और एतिहासिक हैं. विराट की बल्लेबाजी मुकाबले को जीतने के लिए काफी नहीं थी क्यूंकि दूसरी ओर से कोई भी बल्लेबाज उनका साथ नहीं दे रहा था.

 

भारत और इंग्लैंड की टेस्ट श्रृंखला की शुरुआत से पहले कयास लगाए जा रहे थे कि विराट अपने पिछले दौरे की तरह पूरी तरह फेल हो जाएंगे. लोगों के मन में यही प्रश्न था कि क्या विराट अपने प्रदर्शन में सुधार कर पाएंगे. विराट के लिए 2014 का दौरा काफी भयानक था, उन्होने 10 पारियों में केवल 134 रन बनाए थे, जिसमे से दो बार उन्हे शून्य पर भी पवेलियन लौटना पड़ा था. पर पहले मुकाबले में दोनों पारियों में कुल 200 रन बनाकर, विराट ने सभी विरोधियों का मूह बंद करा दिया. वह इस मुकाबले में अकेले योद्धा थे. संजय ने कहा कि सभी को विश्वास था कि विराट अच्छा करेंगे. जेसन रॉय ने भी संजय का समर्थन किया, परंतु रॉय ने यह भी कहा कि, “निश्चित ही विराट एक दिग्गज बल्लेबाज और चुस्त दुरुस्त धावक और फील्डर है, पर इंग्लैंड टीम विराट का तोड़ निकाल लेगी, हम उनसे नहीं डरते.”