देखिये :- टेस्ट में वापसी के लिए उत्सुक हैं दिनेश कार्तिक

कार्तिक की टेस्ट क्रिकेट में वापसी
इंग्लैंड बनाम भारत टेस्ट सीरीज शुरू होने में अब केवल दो दिन का समय बचा है. गौरतलब है कि सीरीज से रिलेटेड बीसीसीआइ की औपचारिक वेबसाइट ने बीते दिनों कार्तिक का इंटरव्यू लिया. इसमें उनसे उनकी तैयारी और उम्मीदों पर बात की गई थी.
कार्तिक थोड़े नर्वस हैं क्योकि दस साल बाद उन्हे टेस्ट खेलने का मौका मिला है. इंग्लैंड के खिलाफ यदि किसी मैच में उन्हे मौका मिलता है तो यह लगभग दस साल बाद होगा जब वे टेस्ट में कीपिंग करेंगे.
गौरतलब है कि पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के सन्यास लेने के बाद रिद्धिमान साहा भारत के मुख्य विकेटकिपर के रूप में सामने आए थे, पर आईपीएल के दौरान हैदराबाद की ओर से खेलते हुए साहा ने खुद को चोटिल कर लिया था.

 

शानदार प्रदर्शन रहा था 2007 में
कार्तिक ने अपना आखिरी टेस्ट मैच ग्यारह साल पहले इंग्लैंड के खिलाफ ही खेला था. उस मैच में कार्तिक ने शानदार प्रदर्शन करते हुए लॉर्ड्स के मैदान पर कुल 60 और ट्रेंट ब्रिज में कुल 77 और अंत में ओवल के मैदान पर कुल 91 रन बनाए थे. भारत ने यह सिरीज 1-0 से जीती थी.
भारतीय क्रिकेट बोर्ड की औपचारिक वेबसाइट को इंटरव्यू देते हुए कार्तिक ने कहा कि,

“मैं थोड़ा उत्सुक और नर्वस हूँ. काफी समय बाद मुझे टेस्ट क्रिकेट में मौका मिला है. मैं अपनी ओर से अच्छा करूंगा. इंग्लैंड में खेलना एक चुनौती है.”

 

टेस्ट क्रिकेट की गुणवत्ता 2007 में काफी ज्यादा थी : कार्तिक
उन्होने आगे कहा कि, ” मेरी याददाश्त काफी कमजोर है इसीलिए मैं ज्यादा गहराई से नहीं बता सकता. मुझे अपने करियर की भी केवल मुख्य घटनाएं याद हैं. यह काफी मुश्किल टेस्ट सीरीज थी. इस सीरीज की खासियत थी कि इसके तीनों मैच में सभी ग्यारह सदस्य वही थे. टीम ने कोई बदलाव नहीं किया गया था. यह काफी मुश्किल सीरीज थी और दोनों टीम में से किसी ने भी कोई बदलाव नहीं किया था. “

 

कोहली और शास्त्री शानदार हैं
33 वर्षीय क्रिकेटर ने भारतीय कप्तान विराट कोहली और भारतीय कोच रवि शास्त्री की उनकी टीम के लिए मेहनत के लिए शानदार कहा. उन्होने बताया कि शास्त्री और कोहली का खेल के प्रति समर्पण देखने ही लायक है, वे दोनों प्रेरक हैं.
आगे उन्होने कहा कि, ” हम एक अच्छी टीम कोम्बिनेशन की तलाश में है, मैं कप्तान और कोच को टीम को आगे नेतृत्व करते हुए देखने के लिए मैं  उत्सुक हूं. वे काफी सकारात्मक हैं, और टीम को प्रेरणा देते है.”

Previous Article
Next Article

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *