वेस्ट इंडीज टीम को, यह तीन कमियां सुधारनी होंगी!

भारत बनाम वेस्ट इंडीज टेस्ट श्रृंखला का दूसरा मुकाबला 12 अक्टूबर से खेला जाएगा| गौरतलब है कि पहला मुकाबला मेजबानों द्वारा बड़े अंतर से जीता गया था| वेस्ट इंडीज की टीम ने पहले मुकाबले में काफी ज्यादा खराब प्रदर्शन किया और बल्लेबाजी और गेंदबाजों दोनों ही जगह वो कमजोर नजर आए|

वेस्ट इंडीज की टीम काफी ज्यादा कमजोर नजर आ रही है और भारत जैसी बड़ी टीम को चुनौती देने के लिए वेस्ट इंडीज को काफी मेहनत करनी होगी|

जेसन होल्डर की रिप्लेसमेंट

भारत में जीतने के लिए आपको अपने स्पिनर गेंदबाजों से अच्छा प्रदर्शन कराना होता है पर इसका मतलब यह नहीं कि तेज गेंदबाजों का कोई महत्व नहीं| जेसन ग्लिम्पस और डेल स्टेन ने अपनी अपनी टीमों की भारत में सफलता के लिए काफी ज्यादा योगदान दिया था| गौरतलब है कि दोनों तेज गेंदबाज हैं. इसी तरह वेस्ट इंडीज की टीम में शामिल तेज गेंदबाजों को अच्छा प्रदर्शन करना होगा|

 

 

दुर्भाग्यवश वेस्ट इंडीज की टीम ने जेसन होल्डर के रूप में अपने मुख्य तेज गेंदबाज को खो दिया| उनके स्थान पर प्रदर्शन करने वाला कोई भी गेंदबाज उनकी टीम में नहीं है| शैनन गबरेल ने पहले टेस्ट मैच में भारतीय टीम को चुनौती दी थी पर वह अकेले कुछ नहीं कर सकते|

वेस्ट इंडीज की टीम को तेज गेंदबाजी पर नज़र रखनी होगी और सुधार करना होगा|

आक्रामक या डिफेंस

वेस्ट इंडीज के बल्लेबाजों ने मुकाबले में तेज आक्रामक रुख ही अपनाया| पहले टेस्ट की दूसरी पारी में देखा गया कि हर बल्लेबाज ने हवाई शॉट लगाने की कोशिश की| उन्होने भारतीय स्पिन गेंदबाजों को परखे बिना हवाई शॉट खेलने की कोशिश की| यह योजना काफी बुरा साबित हुई क्यूंकि ऐसा कभी कभी ही होता जब भारतीय तेज गेंदबाज खराब गेंदे डालें|

कार्यकारी कप्तान क्रैग ब्रेथवेट को अपने बल्लेबाजों पर विश्वास करना होगा और कोशिश करनी होगी कि वे डिफेंस और अटैक के बीच संतुलन बना सकें| यह देखना काफी दिलचस्प होगा कि वे किस तरह खुद को बडे़ शॉट खेलने से खुद को रोकते हैं|

भारत की बल्लेबाजी को कैसे रोकें?

वेस्ट इंडीज के लिए सबसे ज्यादा मुश्किल होगा भारत की बल्लेबाजी को रोकना| जिस प्रकार की लय में भारतीय बल्लेबाज हैं, यह उनके लिए काफी मुश्किल होगा| सलामी बल्लेबाज के एल राहुल से लेकर निचले क्रम में रवींद्र जडेजा तक, कोई भी बल्लेबाज बड़ी बड़ी पारियां आसानी से खेल सकता है| पुजारा और कोहली हमेशा बेहतरीन लय में नज़र आते हैं|

यह देखना होगा कि किस तरह और किन योजनाओं की मदद से वेस्ट इंडीज के गेंदबाज इन बल्लेबाजों को रोकने में सफल होते हैं| भारतीय बल्लेबाजी को रोकने के लिए शुरुआत में ही विकेट निकालने होंगे|

Previous Article
Next Article

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *