May 1, 2019
| On 3 महीना ago

……क्योंकि जिंदगी कभी दूसरा मौका दे, तो कमबैक बिल्कुल डेविड वॉर्नर की तरह होना चाहिए

By Avinash Aryan

IPL 2019 डेविड वॉर्नर के लिए काफी इमोशनल रहा. एक साल बैन झेलने के बाद IPL में वापसी कर रहे थे. क्रिकेट फैंस ने कभी डेविड वॉर्नर के टैलेंट पर शक नहीं किया था. लेकिन, एक लंबे समय के बाद क्रिकेट में वापसी कर रहे थे.

डेविड वॉर्नर ने किया था शानदार आगाज

इसलिए, सभी के मन में सवाल था कि क्या हमें पुराना डेविड वॉर्नर देखने को मिलेगा? कोलकाता नाईट राइडर्स के खिलाफ डेविड वॉर्नर ने IPL 2019 का अपना पहला मैच खेला. और इस मैच में ऑस्ट्रेलिया के इस बल्लेबाज ने महज 53 गेंदों पर 85 रन ठोककर दुनिया को गलत साबित कर दिया.

Credit : AFP

वॉर्नर ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए 9 चौके और तीन छक्के लगाए थे. इसके बाद डेविड वॉर्नर का बल्ला पूरे टूर्नामेंट में थमा नहीं. सिर्फ 12 मैच खेलने के लिए वह भारत आए थे. चूँकि, 2 मई तक उन्हें विश्वकप की तैयारी के लिए ऑस्ट्रेलियाई कैम्प ज्वाइन करना था.

लक्ष्मण से किया था 500 रनों का वादा

डेविड वॉर्नर ने टूर्नामेंट से पहले सनराइजर्स हैदराबाद के मेंटर वीवीएस लक्ष्मण से एक वादा किया था. वॉर्नर ने लक्ष्मण से वादा किया था कि वह 12 मैचों में टीम के लिए 500 रन बना देंगे. हैरानी की बात ये है कि 12 मैचों में वॉर्नर ने 692 रन ठोक डाले. जिसमें आठ अर्धशतक और एक शतक भी शामिल थे.

ऑस्ट्रेलिया का ये खिलाड़ी, न सिर्फ अपने वादे पर खरा उतरा. बल्कि, अपने दामन पर लगे दाग को अच्छे से धूल भी दिया. यूँ कहिये कि जिंदगी कभी आपको दूसरा मौका दे तो कमबैक बिल्कुल डेविड वॉर्नर जैसा करें.

Credit : IPLT20.com

बेहतर इंसान बनकर निकले वॉर्नर

बॉल टेम्परिंग ने डेविड वॉर्नर को कहीं न कहीं भीतर से तोड़ दिया था. ऐसे वक्त में जब पूरी दुनिया उनपर सवाल उठा रही थी. तब, वॉर्नर अपनी दो बेटियों और पत्नी कैंडिस वॉर्नर के साथ सपोर्ट बनकर खड़े रहे.

Credit : AAP

इतने दिनों में वॉर्नर न सिर्फ एक अच्छे पिता बल्कि पति भी बने. उन्होंने किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ आखिरी मैच में 81 रनों की मैच जिताऊ पारी खेली.

भावुक होकर कहा IPL को अलविदा

इसके बाद जब उन्हें मैन ऑफ़ द मैच अवॉर्ड मिला. तो, वॉर्नर ने भावुक होते हुए कहा था कि इस एक साल ने उन्हें एक बेहतर इंसान बनाया. एक बेहतर पति और पिता बनाया.

खैर, आईपीएल 2019 को ये धाकड़ बल्लेबाज अलविदा कह चुका है. लेकिन, जाते-जाते डेविड वॉर्नर ने साबित कर दिया कि जिंदगी में कभी किसी को हार नहीं मानना चाहिए. किसी भी खिलाड़ी के लिए कमबैक करना आसान नहीं होता है. बशर्ते वो खिलाड़ी डेविड वॉर्नर हो.

Avinash Aryan