गेंदबाज ने जो रूट को कह दी ऐसी बात, गुस्से में बोले- ‘Gay होना गलत नहीं…’ देखें VIDEO

By Taranjeet Sikka

वेस्ट इंडीज के तेज गेंदबाज शेनन ग्रैबियल को इंग्लैंड के खिलाफ होने वाली 5 वनडे अंतरराष्ट्रीय सीरीज के पहले 4 मैचों से सस्पेंड कर दिया है। असल में उनके बीते 24 महीनों में उनके डिमैरिट पॉइंट्स की संख्या 8 पहुंच गई है और इसी वजह से उन्हें ये सजा मिली है।

शैनन को मिले 3 डिमैरिट पॉइंट

शैनन ने सेंट लूसिया टेस्ट मैच के दौरान इंग्लैंड के कप्तान जो रूट पर समलैंगिकता से जुड़ी एक विवादित टिप्पणी की थी। जिस वजह से आईसीसी ने उन्हें आचार संहिता के उल्लंघन का दोषी पाया है। इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए तीसरे टेस्ट मैच के दौरान उन पर 75 फीसदी मैच फीस का जुर्माना लगाया था। इसके साथ ही ग्रैबियल को तीन डिमैरिट पॉइंट भी दिए गए थे।

सेंट लूसिया टेस्ट में ग्रैबियल को आईसीसी के नियम 2.13 के उल्लंघन का दोषी पाया गया था। इस नियम के अंतर्गत अंतरराष्ट्रीय मैच के दौरान किसी खिलाड़ी, खिलाड़ी के सपॉर्ट स्टाफ, अंपायर या मैच रैफरी को अपशब्द कहना शामिल होता है।

क्या था मामला

मैच के तीसरे दिन गैब्रिएल और इंग्लैंड के दो बल्लेबाजों रूट और जोए डेनली के बीच कहासुनी हुई थी। इसमें रूट का बयान स्टंप माइक में कैद हो गया था। रूट ने कहा था कि इसे लेकर बेइज्जती नहीं कीजिए। समलैंगिक होने में किसी तरह की भी बुराई नहीं है।

मैच के दौरान वेस्टइंडीज के तेज गेंदबाज शैनन गैब्रियल ने जो रूट को ‘होमोफोबिक’ (होमोसेक्युअल्टी को गलत समझने वाला) कह कर स्लेज करने की कोशिश की थी। लेकिन जो रूट ने उसी वक्त उनकी बोलती बंद कर दी थी।

शैनन ने स्वीकार की गलती

ग्रैबियल ने मंगलवार को मैच के बाद अपना अपराध स्वीकार किया है और मैच रेफरी जैफ क्रो की सजा को स्वीकार भी कर लिया था। इसके बाद किसी आधिकारिक सुनवाई की आवश्यकता नहीं पड़ी थी।

आपको बता दें कि तीसरा टेस्ट इंग्लैंड ने बड़ी आसानी से 232 रनों से जीत लिया था। वेस्टइंडीज अच्छा परफॉर्म नहीं कर सकी और मैच से हाथ धोना पड़ा है। जो रूट ने 122 रनों की शानदार पारी खेली है। जिससे इंग्लैंड को बढ़त दिला दी है और वेस्टइंडीज को हार नसीब हुई है।

Taranjeet Sikka