January 15, 2019
| On 1 महीना ago

महज पांच साल में देखा था क्रिकेटर बनने का ख्वाब, किसान पिता के त्याग और कड़ी मेहनत से बनाई भारतीय टीम में जगह

By Shubham Mishra

बिना लक्ष्य के जीने वाले इंसानों की

जिंदगी कहाँ अमीर होती है,

जब मिल जाती है सफलता तो

नाम ही सबसे बड़ी जागीर होती है।

कहते है अगर आप में लगन है, जुनून है, कुछ कर गुजरने की जिद्द है, तो आपको अपने लक्ष्य में कामयाबी एक दिन जरुर मिलेंगी। कुछ ऐसा ही जुनून था उस तीन साल के बच्चे का क्रिकेट के प्रति, जो उसके पिता ने उसकी आँखों में देखा था।

महज पांच साल की उम्र में क्रिकेटर बनने की ठानने वाले शुभमन गिल को रणजी में लगातार शानदार प्रदर्शन की बदौलत न्यूजीलैंड में होने वाली सीमित ओवरों की सीरीज के लिए भारतीय टीम में शामिल किया गया है। यानि पजांब द पुत्तर अब अंतरराष्टीय क्रिकेट में धूम मचाने को तैयार है।

"Join our Telegram Channel to get updates on your mobile IndiaFantasy"
"Follow us on Twitter To get latest updates Click Here to check it out."

महज पांच साल में देखा क्रिकेटर बनने का सपना

पजांब के फाजिल्का जिले में जन्मे शुभमन गिल की क्रिकेट के प्रति रुचि बचपन से ही थी। जिस पांच वर्ष की उम्र में बच्चे स्कूल की तरफ रुख करते है, उस उम्र में मासूम शुभमन ने क्रिकेटर बनने की ठान ली थी। पेशे से किसान और खेतों में काम कर घर का गुजारा करने वाले पिता लखविंदर सिंह ने बेटे के सपने को पूरा करने के लिए हर वो सुविधा मुहिए करायी जिसकी उनको जरुरत हुई।

शुभमन का देखा सपना पूरा करने में उनके पिता लखविंदर सिंह ने कोई कसर नहीं छोडी। बेटे की क्रिकेट के प्रति दीवानगी देख पिता लखविंदर सिंह फाजिल्का से पलायन कर मोहाली आकर बस गए ताकि शुभमन को प्रोफेशनल ट्रेनिंग दिला सकें। वही शुभमन गिल ने भी दिन रात मेहनत कर महज 19 साल की उम्र में क्रिकेट जगत में अपनी पहचान बनाई।

पजांब की तरफ से मिला मौका

शुभमन गिल ने 2016-17 में लिस्ट-ए में पजांब की टीम की तरफ से डेब्यू किया था। वही शुभमन का प्रदर्शन विजय हजारे ट्रॉफी में भी बेहद शानदार रहा था। महज 19 साल के शुभमन को बीसीसीआई द्वारा लगातार दो साल बेस्ट जूनियर क्रिकेटर के तौर पर चुना गया था।

शुभमन को फर्स्ट क्लास क्रिकेट में नवंबर 2017 में रणजी ट्रॉफी की टीम में जगह दी गयी। जहां उन्होने पजांब की तरफ से खेलते हुए सर्विसेज के खिलाफ शानदार शतकीय पारी खेली।

अंडर 19 में मचाई धूम

साल 2018 में हुए अंडर 19 क्रिकेट वर्ल्ड कप में शुभमन ने खूब धूम मचाई। सेमीफाइनल मैच में पाकिस्तान के खिलाफ खेली उस शतकीय पारी ने शुभमन को क्रिकेट जगत में पहचान दी। यही नहीं शुभमन ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भी शानदार अर्धशतकीय पारी खेली थी। उन्होने टूर्नामेंट में कुल मिलाकर 372 रन बनाए, जिसके चलते उनको मैन ऑफ द टूर्नामेंट के खिताब से भी नवाजा गया था।

आईपीएल में भी चमके शुभमन

अंडर 19 वर्ल्ड कप में शानदार प्रदर्शन के चलते शुभमन ने साल 2018 में आईपीएल में भी डेब्यू किया। उनको कोलकता की टीम ने 1.8 करोड रुपए में अपनी टीम में शामिल किया। वहां भी मौका मिलने पर शुभमन ने अच्छा प्रदर्शन कर के दिखाया।

Shubham Mishra

View Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked*