IND vs AUS : अस्पताल में पिता थे भर्ती और कंगारूओं के छक्के छुड़ा रहा था ये स्टार बल्लेबाज

By Avinash Aryan

विराट कोहली की गुवाई में भारतीय टीम ने एक नया इतिहास कायम कर दिया है और सिडनी में खेले गए आखिरी टेस्ट मैच को ज्यादा बारिश होने की वजह से ड्रॉ घोषित कर दिया गया था। जिसके मुताबिक टीम इंडिया ने इस सीरीज को 2-1 के अंतर से अपने नाम कर लिया है।

चेतेश्वर पुजारा का ऐतिहासिक प्रदर्शन

लेकिन इस सीरीज के दौरान और ऑस्ट्रेलियाई दौरे के दौरान सबसे ज्यादा सुर्खियों में चेतेश्वर पुजारा की बल्लेबाजी बनी हुई है। उन्होंने कंगारुओं के खिलाफ इन 4 टेस्ट मैचों की सीरीज में 74.42 की औसत से 1258 गेंदों में कुल 521 रनों की धुंआधार पारी खेली है।

पुजारा ने लगाए तीन शतक

इस सीरीज में पुजारा की खास बात ये रही है कि उन्होंने टेस्ट मैच के पहले दिन ही अपना तीसरा शतक जमाया है। बेशक अगले दिन वह सिर्फ सात रनों की वजह से दोहरा शतक जड़ने से चूक गए थे, लेकिन जिन परिस्थितियों में उन्होंने अपनी ये धुंआदार पारी खेली है, वह वाकई काबिल-ए-तारीफ है।

दिल के मरीज हैं पुजारा के पिता

मीडिया खबरों के मुताबिक बताया जा रहा है कि जब वह इस सीरीज के पहले दिन शतक जड़ने की तरफ बढ़ने के लिए लगातार रनों की बौचार कर रहे थे. उस समय उनके 68 साल के पिता को उनका परिवार अस्पताल में भर्ती कराने लेकर जा रहा है। पुजारा के पिता का नाम अरविंद है और वह दिल की बीमारी से ग्रस्त है।

अस्पताल में थे भर्ती

इसी वजह से उन्हें अस्पताल में भर्ती करने के लिए लेजाया गया था। पुजारा की पत्नी भी उनके पिता के साथ अस्पताल में ही पहुंची हुई थी। लेकिन उसके बावजूद भी पुजारा ने जो बल्लेबाजी की है वो किसी मिसाल से कम नहीं है।

बताया जाता है कि पुजारा के कोच भी उनके पिता अरविंद ही रहे है और उन्होंने महज 7 साल की उम्र से ही पुजारा को कोचिंग देना शुरू कर दिया था। वैसे तो पुजारा के पिता उनकी बल्लेबाजी हर बार ध्यान से देखते है।

लेकिन इस बार बीमारी की वजह से वह इस मैच को देखने से चूक गए। इस मैच में खास बात ये रही कि पुजारा के पिता अपने बेटे को खेलते हुए तो नहीं देख पाए लेकिन वह बार-बार स्कोर अपडेट जरूर लेते दिख रहे थे।

SYS vs CV Dream 11 Team बांग्लादेश प्रीमियर लीग 2019 Match Prediction, Team News, Playing 11

Avinash Aryan