भारतीय टीम के उपकप्तान रोहित शर्मा ने विंडीज के खिलाफ टी20 सीरीज से पहले ऋषभ पंत को लेकर बड़ी बात कही है। रोहित ने कहा की धोनी की अनुपस्थिती में ऋषभ के लिए खुद को साबित करने का शानदार मौका है। रोहित ने विश्वास जताया है की ऋषभ पंत हाथ आए इस मौके को जाया नही जानें देंगें। वही रोहित ने वर्ल्ड कप से पहले बेंच स्ट्रेंथ को आजमाने के लिए ऐसी सीरीज को बेहद अहम बताया।

 

पंत पर हिटमैन को भरोसा

विंडीज के खिलाफ टी20 सीरीज में कप्तानी का भार संभाल रहे रोहित शर्मा ने ऋषभ पंत के लिए इस टी20 सीरीज को शानदार मौका बताया है। रोहित ने कहा की धोनी की अनुपस्थिती में ऋषभ के पास खुद को साबित करने का यह बेहतरीन मौका है। हिटमैन ने कहा की उन्हें विश्वास है कि पंत हाथ आए इस मौके का भरपूर फायदा उठाएंगें। गौरतलब है कि ऋषभ पंत ने अपने अंतरराष्टीय टी20 करियर की शुरुआत फरवरी 2017 में इंग्लैंड के खिलाफ खेल कर की थी। ऋषभ ने इस साल ही अपने टेस्ट और वनडे क्रिकेट की शुरुआत भी  की है। ऋषभ अपनी तूफानी बल्लेबाजी के लिए दुनिया भर में जाने जाते है, उन्होने आईपीएल में दिल्ली की तरफ से खेलते हुए इस सीजन में काफी रन बनाए थे। वही ऋषभ का घरेलू सीजन में भी प्रदर्शन  कमाल का रहा था। वही इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में ऋषभ ने शानदार शतकीय पारी भी खेली थी।

 

दिनेश कर्तिक के पास भी होगा मौका

रोहित ने दिनेश कार्तिक को भी खुद को साबित करने  के लिए इस टी20 सीरीज को शानदार मौका बताया है। इंग्लैंड दौरे पर अपने खराब प्रदर्शन के चलते टीम से बाहर हुए दिनेश कार्तिक को विंडीज के खिलाफ टी20 सीरीज में टीम में जगह दी गयी है। वर्ल्ड कप से पहले दिनेश कार्तिक के पास खुद को साबित करने का यह अंतिम मौका हो सकता है।

 

यह भी पढ़े – Jadeja has matured a lot: Indian Skipper

 

बेंच स्ट्रेंथ को मजबूत करना जरुरी

रोहित ने ऐसी सीरीज में बेंच स्ट्रेंथ को आजमाने और मजबूत करने की बात कही। रोहित ने कहा की हम वर्ल्ड कप के लिए महज 15 खिलाड़ियों पर निर्भर नही रह सकते है। ऐसी सीरीज हमें मौका देती है की हम अपनी बेंच स्ट्रेंथ को आजमा सकें वा उनको पर्याप्त मौके दे सकें। विंडीज के खिलाफ टी20 सीरीज के लिए स्पिन गेंदबाज शहबाज नदीम को भारतीय टीम में पहली दफा जगह मिली है। वही कुणाल पांड्या को भी टीम में शामिल किया गया है। नदीम ने विजय हजारे ट्रॉफी में झारखंड के लिए खेलते हुए एक मैच में 10 रन देकर आठ विकेट लिए थे।

 

पहले बल्लेबाज फिर कप्तान

हिटमैन ने अपनी कप्तानी को लेकर कहा की वो इसके बारे में ज्यादा सोचतें नही है। रोहित ने कहा की वो पहले एक बल्लेबाज है, और उनका पहला काम है टीम के लिए रन बनाना। हालांकि रोहित ने कहा की वों कप्तानी की जिम्मेदारी का  बेहद लुत्फ उठाते है। रोहित ने कहा की देश की कप्तानी करना उनके लिए गौरव की बात है, और जब उनको मौका मिलेंगा तो वो इसके लिए तैयार रहेंगें।