सीरीज में 2-1 से पिछड़ रही विंडीज टीम को पांचवें एकदिवसीय मुकाबलें से पहले बड़ा झटका लगा है।  विंडीज टीम को तीसरे एकदिवसीय मैच में जीत दिलाने में अहम योगदान देने वालें गेंदबाज एश्ले नर्स का पांचवा एकदिवसीय मुकाबलें में खेलना मुश्किल नजर आ रहा है। चौथे एकदिवसीय मुकाबलें में कंधे में दर्द होने के कारण नर्स बीच मैच में मैदान छोड़ कर चले गए थे।

 

नर्स का खेलना मुश्किल

सीरीज में पहले से पिछड रही विंडीज टीम के लिए एक और बुरी खबर है। टीम के स्पिन गेंदबाज एश्ले नर्स का अंतिम एकदिवसीय मुकाबलें में खेलना मुश्किल नजर आ रहा है।पांचवे वनडे  मैच खेलने के लिेए तिरुवनंतपुरम पहुंचे एश्ले नर्स अपने कंधे को सपोर्टर की मदद  से बांधे नजर आए।  चौथे एकदिवसीय मुकाबलें के दौरान ही नर्स को कंधे में दर्द की समस्या हुई थी, जिसके चलते वो बीच मैच में ही मैदान छोड़ कर चले गए थे। पिछलें मैच में 224 की करारी हार झेल चुकी विंडीज की टीम के लिए सीरीज को बराबारी पर समाप्त करना अब और भी मुश्किल नजर आ रहा है। नर्स ने इस पूरी सीरीज में गेंद और बल्ले दोनों से अहम योगदान दिया है। पांचवे वनडे  मैच खेलने के लिेए तिरुवनंतपुरम पहुंचे एश्ले नर्स अपने कंधों को सपोर्टर से बांधे नजर आए

 

तीसरे वनडे में जीत के हीरो थे नर्स

भारत औऱ विंडीज के बीच खेले गए तीसरे वनडे मुकाबलें में नर्स ने शानदार प्रदर्शन किया था। नर्स ने ना सिर्फ गेंद से दो विकेट चटकाए थे बल्कि बल्ले से भी महज 22 गेंदों में चार चौकों और दो छक्के की मदद से 40 रन की तूफानी पारी खेली थी। जिसके चलते विंडीज की टीम एक सम्मानजनक टोटल तक पहुंचने में कामयाब रहा था। वही नर्स ने गेंदबाजी में भी धवन और ऋषभ पंत का विकेट चटकाए थे। जिसके चलते विंडीज की टीम इस मैच को 43 रन के अंतर से जीतने में कामयाब रही थी। नर्स का चोटिल होने विंडीज टीम के लिए बहुत बुरी खबर है। नर्स को छोड़ कर वेस्टइंडीज के बाकी गेंदबाज अभी तक इस सीरीज में कुछ खास प्रभाव नही डाल सकें है।

 

चौथे मैच के दौरान दिक्कत में दिखे थे नर्स

मुंबई में खेले चौथे एकदिवसीय मुकाबलें में नर्स गेंदबाजी करते समय काफी दिक्कत में नजर आए थे। नर्स ने कुछ ओवर गेंदबाजी करने के बाद मैच के दौरान ही मैदान से बाहर चले गए थे। हालांकि वह वापिस मैदान पर लौटे थे और 8 ओवर का स्पेल डाल, रोहित शर्मा का विकेट अपने नाम किया था। मगर पूरे मैच के कंधे में दर्द से परेशान नजर आए थे। जिसके चलते कप्तान होल्डर को कुछ ओवर पार्ट टाइम गेंदबाजों से करवाने पड़े थे।

यह भी पढ़े –India vs Windies: Injured Nurse Doubtful for Thiravananthapuram Odi

विंडीज की राह मुश्किल

सीरीज में 2-1 से पिछड़ रही विंडीज की टीम के लिए नर्स का चोटिल होना अच्छे सकेंत नही है। चौथे वनडे में विंडीज टीम की गेंदबाजी की भारतीय बल्लेबाजों ने धज्जियां उड़ा दी थी। विंडीज के हर गेंदबाज ने लगभग आठ रन प्रति ओवर के हिसाब से रन लुटाए थे, जिसके चलते भारतीय टीम 50 ओवर में 377 रन बनाने में कामयाब रही थी।

 

भारतीय टीम की निगाहें सीरीज सील पर

चौथे एकदिवसीय मुकाबलें में 224 रनों के अंतर से जीत दर्ज करने के बाद भारतीय टीम की नजरें पांचवें वा आखिरी वनडे मैच को जीत कर सीरीज अपने नाम करने पर होगी। चौथे एकदिवसीय मैच में बल्लेबाजों के शानदार प्रदर्शन के बाद टीम की गेंदबाजी में भी धार नजर आयी थी। ऐसे में विराट&कंपनी अब पांचवें वा अंतिम मैच को जीत कर अपनी सरजर्मी पर विंडीज को फिर धूल चटाना चाहेगी।