May 16, 2019
| On 6 दिन ago

क्रिकेट विश्वकप में इन 8 गेंदबाजों ने लिए हैं हैट्रिक, लिस्ट में एक भारतीय भी शामिल

किसी भी गेंदबाज के लिए हैट्रिक लेना, सबसे मुश्किल काम होता है. तीन गेंदों में तीन विकेट लेने के लिए गेंदबाज को सटीक लाइन लेंथ, स्किल्स के साथ भाग्य की भी खूब जरूरत होती है.  अगर, कोई गेंदबाज ये काम क्रिकेट वर्ल्ड कप में कर जाएं, तो सोने पर सुहागा है.

Credit : ICC Cricket

चूँकि, विश्वकप सबसे बड़ा टूर्नामेंट होता है. इस टूर्नामेंट में टीम का हिस्सा होना ही बड़ी बात होती है. और हैट्रिक लेने का मतलब, स्वर्णिम अक्षरों में अपना नाम हमेशा के लिए लिखवा लेना. खैर, विश्वकप में अब तक आठ गेंदबाजों ने हैट्रिक लेने का कारनामा किया है. एक नजर उन गेंदबाजों ने जिन्होंने क्रिकेट विश्वकप में हैट्रिक लेकर इतिहास रचा है.

1) चेतन शर्मा :

चेतन शर्मा का जब भी नाम आता है. तो जावेद मियांदाद का वो छक्का याद आता है, जो उन्होंने चेतन शर्मा की आखिरी गेंद पर लगाया था.

Credit : ICC

लेकिन, चेतन शर्मा की सबसे बड़ी उपलब्धि ये भी है कि वह वर्ल्ड कप में हैट्रिक लेने वाले पहले गेंदबाज हैं. चेतन शर्मा ने साल 1987 में नागपुर में न्यूजीलैंड के खिलाफ ये कारनामा किया था.

2) सकलैन मुश्ताक :

साल 1999 के क्रिकेट विश्वकप में सकलैन मुश्ताक ने जिम्बाब्वे के खिलाफ हैट्रिक लेने का कारनामा किया था. सकलैन मुश्ताक ने हेनरी ओलंगा, एडम हकल और पोमी म्बांग्वा को आउट किया था.

3) चामिंडा वास :

2003 क्रिकेट विश्वकप के दसवें मैच में चामिंडा वास ने बांग्लादेश के खिलाफ हैट्रिक विकेट हासिल किया था. साथ ही चामिंडा पारी की पहली तीन गेंदों पर तीन विकेट चटकाने वाले पहले गेंदबाज भी बने.

Credit : Getty Images

4) ब्रेट ली :

ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज ब्रेट ली टी20 क्रिकेट में हैट्रिक लेने वाले पहले गेंदबाज हैं. उन्होंने ये कारनामा बांग्लादेश  के खिलाफ किया था.

Credit : Cricket Australia

लेकिन, आपको जानकर हैरानी होगी कि ब्रेट ली ने 2003 क्रिकेट विश्वकप में भी हैट्रिक विकेट दर्ज किया था. केन्या के खिलाफ ब्रेट ली ने तीन गेंदों पर तीन विकेट हासिल किये थे.

5) लसिथ मलिंगा :

श्रीलंका के अनुभवी तेज गेंदबाज लसिथ मलिंगा विश्वकप में दो बार हैट्रिक लेने वाले पहले गेंदबाज हैं. साथ ही वनडे क्रिकेट और विश्वकप में चार गेंदों पर 4 विकेट झटकने वाले भी मलिंगा पहले गेंदबाज हैं.

Credit : Getty

2007 और 2011 के क्रिकेट विश्वकप में मलिंगा ने हैट्रिक लिया था. 2007 में उन्होंने साउथ अफ्रीका के खिलाफ चार गेंदों में चारा विकेट हासिल किये थे. जबकि 2011 में मलिंगा ने केन्या के विरुद्ध हैट्रिक लेने का कारनामा किया था.

NBB vs NMP Dream 11 Hindi Prediction

6) केमर रोच :

विंडीज के तेज गेंदबाज केमर रोच भी विश्वकप में हैट्रिक ले चुके हैं. 2011 क्रिकेट विश्वकप में रोच ने नीदरलैंड के खिलाफ ये कारनामा किया था.

7) स्टीवन फिन :

इंग्लैंड के तेज गेंदबाज स्टीवन फिन लंबे समय से टीम से बाहर चल रहे हैं. इस बार तो वह इंग्लैंड विश्वकप टीम के हिस्सा भी नहीं हैं.

Credit : BBC Twitter

आपको बता दें, 2015 के वर्ल्ड कप में स्टीवन फिन ने ऑस्ट्रेलिया जैसी धाकड़ टीम के खिलाफ हैट्रिक लिया था. फिन ने ब्रैड हैडिन, ग्लेन मैक्सवेल और मिचेल जॉनसन को आउट किया था.

8) जेपी डुमिनी :

स्टार ऑलराउंडर जेपी डुमिनी ने श्रीलंका के खिलाफ क्वार्टरफाइनल मैच में तीन गेंदों पर तीन विकेट चटकाए थे. डुमिनी ने एंजेलो मैथ्यूज, नुवान कुलसेकरा और थारिंडू कौशल को आउट किया था.

देखें मजेदार वीडियो :