February 27, 2019
| On 4 महीना ago

इंग्लैंड क्रिकेट के ‘नाइटहुड’ बने पूर्व कप्तान एलिस्टर कुक

By Shubham Bharadwaj

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान एलिस्टर कुक अब ‘सर एलिस्टर कुक’ बन गये है. उन्हें ब्रिटिश नाइटहुड (सर) की उपाधि से सम्मानित किया गया है. इस सम्मान के लिए कुक का नाम पहले ही नामित किया जा चुका था. जिसके बाद बकिंघम पैलेस में आयोजित समारोह के दौरान उन्हें इस उपाधि से नवाज़ा गया.

12 साल बाद बना कोई ब्रिटिश क्रिकेटर नाइटहुड

credit-twitter

ब्रिटिश सम्राज्य में एलिस्टर 12 साल बाद यह सम्मान पाने वाले पहले क्रिकेटर हैं. इससे पहले साल 2007 में इयान बाथम को नाइटहुड (सर) की उपाधि से नवाज़ा गया था. एलिस्टर ने कहा कि इस सम्मान को लेते समय वह काफी नर्वस थे. कुक एक्सेस काउंटी क्लब के लिए क्रिकेट खेलते रहेंगे. उन्होंने पिछले साल एक्सेस के साथ तीन साल की डील साइन की है.

कुक ने कहा, ‘कोई आपसे कहे कि आपको चलना है और फिर घुटने टेकना है, तो यह आपके लिए अजीब सा रहेगा. मेरे लिए भी था और मैं काफी नर्वस था. मैंने कई हजारों लोगों के सामने क्रिकेट खेला है, लेकिन आप सिर्फ चलने और घुटने टेकने से घबरा जाते हैं, जो बहुत अजीब है.’

भारत से कुक का ख़ास नाता

34 साल के कुक के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का सफरनामा भारत के खिलाफ शुरू होकर उसी के खिलाफ खत्म हुआ.  अपने अंतिम टेस्ट मैच में कुक ने भारत के खिलाफ ओवल के मैदान पर शतक ठोका था. वही, 21 साल की उम्र में 2006 में भारत के खिलाफ नागपुर टेस्ट में डेब्यू किया था.

इंग्लैंड के सबसे सफल टेस्ट बल्लेबाज़ है कुक

credit- twitter

कुक ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करियर में कई रिकॉर्ड तोड़े और बनाए भी. वे पहले खिलाड़ी हैं, जिन्होंने इंग्लैंड की ओर से सबसे ज्यादा टेस्ट मैच खेले, सबसे ज्यादा टेस्ट रन और शतक बनाए. कुक ने 161 टेस्ट मैचों में 45.35 की औसत से 12472 रन बनाए हैं. इस दौरान उन्होंने 33 शतक और 57 अर्धशतक लगाए.

एलिस्टर ने 59 टेस्ट मैचों में इंग्लैंड टीम की कप्तानी की है. इसमें उन्होंने टीम को 24 मैच में जिताया, जबकि 22 में टीम को हार मिली है. वहीं, 13 टेस्ट ड्रॉ रहे. कुक का कप्तान के तौर पर जीत का प्रतिशत 40% रहा है.

क्या होता है नाइटहुड

ब्रिटिश राजा या रानी द्वारा किसी व्यक्ति की उपलब्धियों या देश की सेवा के लिए नए साल में नाइटहुड दिया जाता है. जिसे यह सम्मान दिया जाता है, उसके नाम के आगे ‘श्री’ की जगह ‘सर’ लिखा जाता है.

Shubham Bharadwaj