क्रिकेट न्यूज़
| On Sep 21, 2018 4:29 PM IST

भारत और बांग्लादेश के बीच हुए, एशिया कप के यह तीन मुकाबले हैं यादगार!

Share
बड़ी तस्वीर

 

सुपर फॉर स्टेज में भारत का पहला मुकाबला पड़ोसी देश बांग्लादेश के साथ है. दोनों ही टीमों के बीच 2015 की एकदिवसीय श्रृंखला के बाद यह पहला मुकाबला होगा.
बीते कुछ वर्षों में भारत और बांग्लादेश के बीच होने एशिया कप मुकाबले काफी ज्यादा रोमांचक रहे हैं.

 

चलिये उन मुकाबलों पर एक नजर डालें :-
#1 एशिया कप टी20, फ़ाइनल 2016

 

कोहली और धोनी ने शानदार ढंग से फिनिश किया

 

एशिया कप 2016 को उसी वर्ष होने वाले टी20 विश्वकप को ध्यान में रखते हुए टी20 प्रारूप में खेला गया था.
भारतीय टीम के खिलाफ प्रतियोगिता के इतिहास में दूसरी बार बांग्लादेश टीम थी.

 

वर्षा से प्रभावित इस खेल में बांग्लादेश ने पहले बल्लेबाजी की और गिरते विकेटों के बीच महमूदउल्लाह ने 13 गेंद में 33 रनों की पारी खेल कर टीम को वापसी कराई थी. उनकी पारी से 15 ओवर के खेल में बांग्लादेश ने 5-120 का स्कोर बनाया था. 121 लक्ष्य का बचाव करते हुए बांग्लादेश की ओर से अल अमीन ने  रोहित शर्मा को आसानी से आउट कर दिया था. उनके आउट होने के बाद शिखर धवन (60) और कोहली (नाबाद 41) की पारियों से भारत ने खेल में वापसी कर ली थी. धवन के आउट होने के बाद क्रीज पर आए उस वक़्त के भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और उन्होने 6 गेंदों पर कुल 20 रन बनाकर मैच को फिनिश किया. गौरतलब है कि उनकी पारी में 2 बहुत विशाल छह शामिल थे,जिनकी मदद से उन्होने एशिया कप के खिताब पर कब्जा किया था.

 

#2 एशिया कप, ग्रुप स्टेज मुकाबला, 2014
लक्ष्य का पीछा करते हुए कोहली ने दिखाया कमाल
कप्तान मुषफ़ीकुर रहीम के  113 गेंदों में बनाए 117 रन और ऊपरी क्रम के बल्लेबाज अनामूल हक़ के 77 रन के कारण, बांग्लादेश ने 279-7 का लक्ष्य बोर्ड पर लगा दिया था. गौरतलब है भारतीय गेंदबाजों में शमी ने 4-50 का किफायती स्पैल फेंका था. लक्ष्य को बचाते हुए ,रोहित शर्मा (21) और शिखर धवन (28) का विकेट बांग्लादेश ने काफी जल्दी चटका दिया. और सलामी बल्लेबाजों के पविलियन लौटने के बाद कयास लगाए जाने की भारत फिर 2012 की तरह ही प्रतियोगिता से बाहर हो जायेगा.

 

और ऐसे वक़्त में भारत की ओर से विराट कोहली ने संघर्षपूर्ण पारी खेली. उन्होने 16 चौके और 2 छह की मदद से 122 गेंद पर 136 रन बनाए और उनका साथ दिया अजिंक्य रहाणे की 73 रनों की जुझारू पारी ने. दोनों ही बल्लेबाजों ने 213 रनों की साझेदारी करके लक्ष्य को 49 ओवर में हासिल कर लिया.
#3 एशिया कप, ग्रुप स्टेज मैच, 2012

 

तेंदुलकर का रिकॉर्ड और भारत की हार
विश्व क्रिकेट में इस मुकाबले को, सचिन तेंदुलकर के 100वे शतक के लिए याद किया जाता है. गौरतलब है कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में यह उनका 100वां शतक था और इसी मैच में एशिया कप में भारत के खिलाफ बांग्लादेश की पहली जीत थी.
सचिन तेंदुलकर के शतक की मदद से बने भारत के 289-5 के लक्ष्य का पीछा करने उतरी बांग्लादेश ने, आखिरी ओवर तक चलने वाले इस मुकाबले में जीत हासिल की.
बांग्लादेश की ओर से निज़ामउद्दीन को छोड़कर सभी बल्लेबाजों ने रन बनाए. सलामी बल्लेबाज तमीम इकबाल ने लक्ष्य का पीछा करते हुए 70 रन बनाए और फिर उनके बाद जहरूल इस्लाम (53), नासिर हुसैन (54) और शाकिब अल हसन (49) ने मध्य क्रम में जीत के लिए योगदान दिया. मुषफ़ीकुर रहीम की पारी सबसे खास रही क्योकि उन्होने वक़्त को देखते हुए तेजी से रन बनाए थे. उन्होने 25 गेंदों पर 46 रन बनाकर टीम को जीत की दहलीज पर कराई और बांग्लादेश ने 49.2 ओवर में लक्ष्य हासिल कर लिया.
इस हार ने भारत को काफी प्रभावित किया और पिछली प्रतियोगिता के चैम्पियन रहे भारत को प्रतियोगिता को बाहर होना पड़ा.