प्रैक्टिस मैच में भारतीय गेंदबाजों ने बरपाया कहर,200 के पार हुई टीम इंडिया की बढ़त

By Shubham Mishra @shub4438

टी20 और वनडे सीरीज में विंडीज की टीम का सूपड़ा साफ करने के बाद भारतीय टीम अपनी इस लय को टेस्ट मैचों में भी कायम रखना चाहेंगी। पहले टेस्ट मैच से पहले खेले जा रहे तीन दिवसीय अभ्यास मैच में भारतीय गेंदबाजों ने बेहद शानदार प्रदर्शन करते हुए विंडीज की पूरी टीम को महज 181 रनों पर ढ़ेर कर दिया। इससे पहले भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 5 विकेट खोकर 297 रन पर पारी को घोषित कर दिया था।

गेंदबाजों ने किया दमदार प्रदर्शन

भारत और विंडीज-ए के बीच खेले जा रहे तीन दिवसीय अभ्यास मैच में भारतीय गेंदबाजों ने दूसरे दिन दमदार प्रदर्शन करते हुए विंडीज-ए की पूरी पारी को महज 181 रनों पर समेट दिया। भारत की तरफ से ईशांत शर्मा, उमेश यादव और कुलदीप यादव ने तीन-तीन विकेट अपने नाम किए, जबकि जडेजा ने अपने सटीक थ्रो से जेसन मोहम्मद को चलता किया।

भारतीय गेंदबाजों ने पारी की शुरुआत से विंडीज के बल्लेबाजों को सेट होने का समय नहीं दिया। खासतौर पर उमेश यादव बेहद शानदार लय में नजर आए। चाइनामैन गेंदबाज कुलदीय यादव की घूमती गेंदों को विंडीज के बल्लेबाज को पढ़ने में बेहद परेशानी का सामना करना पड़ा।

पुजारा ने जड़ा शतक

भारत ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 5 विकेट के नुकसान पर 297 रन बनाकर अपनी पारी को घोषित किया। टीम की तरफ से केएल राहुल और मयंक अग्रवाल सलामी बल्लेबाज के तौर पर उतरे,हालांकि मयंक बेहद सस्ते में चलते बने। वही, केएल राहुल अच्छी लय में दिख रहे थे लेकिन वो 36 रनों के स्कोर पर अपना विकेट फेंक कर चलते बने।

टेस्ट स्पेशलिस्ट बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने बेहतरीन बल्लेबाजी करते हुए 187 गेदों में 100 रनों की शानदार पारी खेली। जबकि रोहित ने वनडे फॉर्मेट की लय को कायम रखते हुए 68 रनों की बेहतरीन पारी खेली।

यह भी पढ़े – टेस्ट सीरीज में बन सकते है ये रिकॉर्डस, इन तीन खिलाड़ियों के पास होगा सुनहरा मौका

हनुमा विहारी ने खेली शानदार पारी

विंडीज-ए की टीम को 181 रनों पर समेटने के बाद भारतीय टीम ने दूसरे दिन का खेल खत्म होने तक एक विकेट खोकर 84 रन बना लिए थे। हुनमा विहारी ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए 48 रन पर नाबाद है, जबकि इस मैच में टीम की कप्तानी कर रहे अजिंक्य रहाणे 20 रन बनाकर क्रीज पर मौजूद है।

साहा को नहीं मिला मौका

विकेटकीपर के तौर पर साहा को ना ही बल्लेबाजी और ना ही विकेटकीपिंग में मौका दिया गया, उनके ऊपर ऋषभ पंत को तरजीह दे गई जिन्होंने बल्ले से 33 रनों का योगदान दिया। साहा क्रिकेट से कंधे की सर्जरी के चलते पिछले काफी समय से अंतरराष्टीय क्रिकेट से दूर रहे, जिसके बाद पंत को इंग्लैंड दौरे पर टेस्ट मैचों में विकेटकीपर के तौर पर आजमाया गया था। दो मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मैच 22 अगस्त से एंटीगुआ के मैदान पर खेला जाएगा।

Shubham Mishra @shub4438

Die Hard fan of cricket and love to write for sports...