SL vs NZ: कोलंबो टेस्ट में श्रीलंका के पास होगा इतिहास रचने का मौका, ये तीन खिलाड़ी दिला सकते है ढ़ेरों फैंट्सी पॉइंटस

By Shubham Mishra @shub4438

पहले टेस्ट मैच में बड़ा उलटफेर करने वाली श्रीलंका की टीम सीरीज के दूसरे और आखिरी टेस्ट मैच में भी दमदार प्रदर्शन करने के इरादे से मैदान पर उतरेंगी। कोलंबो में होने वाले दूसरे टेस्ट मैच में SLvs NZ की टीमें एक दूसरे के आमने सामने होगी।  पहले टेस्ट मैच में मेजबान टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए न्यूजीलैंड को 6 विकेट से मात दी थी।

टीम के कप्तान दिमुथ करुणारत्ने ने दूसरी पारी में शतकीय पारी खेलकर अकेले दम पर टीम को जीत दिलाई थी। ऐसे में दूसरे टेस्ट मैच में भी टीम इस लय को कायम रखना चाहेंगी,जबकि केन विलियमसन की कप्तानी में खेल रही न्यूजीलैंड सीरीज में वापसी करने के इरादे से मैदान पर उतरेंगी। आइए एक नजर डालते है ऐसे तीन खिलाड़ियों पर जो इस मुकाबले में आपको ढ़ेरों फैंट्सी पॉइंटस दिला सकते है।

1. दिमुथ करुणारत्ने

श्रीलंका टीम के कप्तान दिमुथ करुणारत्ने ने पहले टेस्ट मैच में शानदार शतकीय पारी खेलकर टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई थी। करुणारत्ने ने पहले टेस्ट मैच में 39 और 122 रनों की बढ़िया पारी खेली थी। ऐसे में दूसरे टेस्ट मैच में भी उनके ऊपर टीम की बढ़िया शुरुआत देने की बड़ी जिम्मेदारी होगी।

करुणारत्ने का न्यूजीलैंड के खिलाफ ओवरओल रिकॉर्ड भी काफी दमदार रहा है, कप्तान ने कीवी टीम के खिलाफ 8 मैचों की 16 पारियों में 43.60 की औसत से 654 रन बनाए है जिसमे 2 शतक और 3 अर्धशतक शामिल है।

2, रॉस टेलर

न्यूजीलैंड के अनुभवी बल्लेबाज दूसरे मैच में काफी अच्छी फैंट्सी चॉइस हो सकते है। टेलर पहले मैच में लय में नजर आए थे और पहली पारी में 86 रनों की शानदार इनिंग्स खेली थी। जबकि श्रीलंका के खिलाफ टेलर का रिकॉर्ड भी काफी दमदार रहा है, टेलर ने 11 मैचों की 21 पारियों में 37 की औसत से कुल 747 रन बनाए है।

वही, श्रीलंका की सरजर्मी पर भी टेलर का बल्ला जमकर बोलता है टेलर ने मेजबान के घर पर 5 मैचों की 10 पारियों में 49 की औसत से 491 रन बनाए है।

यह भी पढ़े – विंडीज के खिलाफ 17 साल से टेस्ट मैचों में अजेय रही है टीम इंडिया, देखें बेहद दिलचस्प आंकड़ें!

3. अकिला धनंजय

पहले मैच में अपनी गेंदबाजी से कहर बरपाने वाले अकिला धनंजय दूसरे टेस्ट मैच में भी काफी उपयोगी साबित हो सकते है। धनंजय ने गॉल टेस्ट मैच में कुल 6 विकेट अपने नाम किए थे, जबकि कोलंबो की पिच भी स्पिन गेंदबाजों को मदद करती है ऐसे में इस मैदान पर भी धनंजय काफी खतरनाक साबित हो सकते है खासतौर पर दूसरी पारी के दौरान जब गेंद थोड़ी रुक कर आती है।

Shubham Mishra @shub4438

Die Hard fan of cricket and love to write for sports...