एशेज से होगा टेस्ट चैंपियनशिप का आगाज,जानें कैसा होगा 2 साल तक चलने वाले टूर्नामेंट का पूरा शेड्यूल

Updated on: Aug 1, 2019 3:06 pm IST

  • एकदिवसीय क्रिकेट में विश्व कप को सबसे बड़े टूर्नामेंट के तौर पर जाना जाता है। विश्व कप हर चार साल में एक बार खेला जाता है, और उसको जीतने वाली टीम वनडे फॉर्मेट की सर्वश्रेष्ठ टीम माना जाता है। इसी तरह अब टेस्ट क्रिकेट में भी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप का आगाज होने जा रहा है, इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच होने वाली एशेज सीरीज से इस चैंपियनशिप की शुरुआत होगी।

     

    एशेज से होगी टूर्नामेंट की शुरुआत

    इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली जाने वाली मशहूर टेस्ट सीरीज एशेज से विश्व टेस्ट चैंपिनयशिप की शुरुआत होगी। ये टूर्नामेंट कुल 2 साल तक चलेगा और इसमे 9 टीमें हिस्सा लेगी।

    दो साल चलने वाले इस टूर्नामेंट में कुल 72 मैच खेले जाएंगे और टॉप 2 पर रहने वाली दो टीमें के बीच 10 जून 2021 को फाइनल मुकाबला खेला जाएगा।

     

    9 टीमें होगी टूर्नामेंट का हिस्सा

    विश्व टेस्ट चैंपिनयशिप में कुल 9 टीमें हिस्सा ले रही है, जिसमे इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के अलावा भारत, पाकिस्तान, साउथ अफ्रीका, श्रीलंका, बांग्लादेश, न्यूजीलैंड, विंडीज की टीम शामिल है।

    हर टीम को नियम के मुताबिक तीन घरेलू सीरीज और तीन विदेशी जमीन पर सीरीज खेलनी होगी। दो साल में कुल 27 सीरीज खेली जाएगी।

     

    इस प्रकार होगा अंक का बंटवारा

    विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के नियम के मुताबिक एक सीरीज के कुल मिलाकर 120 अंक होंगे। लेकिन सीरीज कितने मैचों की है इस पर भी काफी कुछ निर्भर करेगा। अगर 2 टेस्ट मैचों की श्रखंला होती है तो एक मैच जीतने पर टीम को 60 अंक मिल जाएगे।

    लेकिन तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में जीत पर 40 अंक मिलेंगे, जबकि 5 मैचों की सीरीज में एक टेस्ट मैच जीतने पर 24 अंक मिलेगा। इसी तरह ड्रॉ मुकाबले के लिए कुछ इस कदर के नियम बनाए गए है। सबसे ज्यादा टेस्ट मैच जीतने वाली दो टीमों के बीच फाइनल होगा। 2 साल तक चलने वाले इस टूर्नामेंट का फाइनल मैच लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर 10 जून 2021 को खेला जाएगा।

     

    Previous Article
    Next Article