IND vs AUS : लगभग 9 साल बाद गोल्डन डक के शिकार बने एमएस धोनी, करियर में इतनी बार हुए हैं जीरो पर आउट

By Avinash Aryan

नागपुर वनडे भारतीय फैंस के लिए काफी निराशाजनक रहा. फैंस टिकट कटाकर अपने फेवरेट एमएस धोनी के चौके-छक्के देखने के लिए आए थे. लेकिन, ऐसा हो नहीं पाया. धोनी खाता खोले बिना पवेलियन लौट गये. गौरतलब है कि भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच पांच मैचों की वनडे सीरीज का दूसरा मैच नागपुर में खेला जा रहा है.

एमएस धोनी-रोहित ने किया निराश

ऑस्ट्रेलियाई कप्तान ने टॉस जीतकर भारत को बल्लेबाजी का न्यौता दिया. टीम इंडिया की सलामी जोड़ी शिखर धवन और रोहित शर्मा ने खराब शुरूआत दी. रोहित पहली ओवर में ही पैट कमिंस की गेंद पर आउट हो गये. लगातार खराब फॉर्म से जूझ रहे रोहित का बल्ला इस मैच में भी खामोश रहा.

सलामी जोड़ी फिर फ्लॉप

वहीं, शिखर धवन ने शुरूआत तो आक्रामक अंदाज में की थी. मगर, ग्लेन मैक्सवेल की एक गेंद पर बुरे फंसे. और 21 रन बनाकर आउट हुए. हालांकि, एक छोर से कप्तान विराट कोहली ने जरूर अच्छी बल्लेबाजी की. इस मैच में कोहली ने अपना 50वां अर्धशतक भी लगाया.

जाम्पा की फिरकी में फंसे धोनी

खैर, पहले वनडे में शानदार बल्लेबाजी करने वाले धोनी ने जरूर निराश किया. ऑस्ट्रेलिया के युवा स्पिनर एडम जांपा की पहली गेंद पर ही धोनी उस्मान ख्वाजा को कैच थमा बैठे. 33वें ओवर की तीसरी गेंद जांपा ने एक बैक ऑफ लेंथ गेंद की. जिसे धोनी कवर की दिशा में धकेलना चाहते थे. लेकिन, चूके और सीधा बॉल ख्वाजा के हाथों में.

9 साल बाद धोनी हुए आउट शून्य पर आउट

आपको बता दें, लगभग 9 साल बाद एमएस धोनी पहली बार शून्य पर आउट हुए हैं. ये सुनने में थोड़ा अजीब जरूर लग रहा है. आखिरी बार साल 2010 में धोनी ऑस्ट्रेलिया के ही खिलाफ विशाखापत्तनम में जीरो पर आउट हुए थे.

अपने वनडे करियर में माही कुल पांच बार ही गोल्डन डक के शिकार बने हैं. ये आंकड़ा जरूर दिलचस्प है. बता दें, एमएस धोनी ने अपना डेब्यू वनडे बांग्लादेश के खिलाफ खेला था. इस मैच में वह गोल्डन डक पर रन आउट हुए थे.

IND vs AUS : फिंच ने जीता टॉस, भारत को बल्लेबाजी का न्यौता, टीम में हुआ बड़ा फेरबदल

Avinash Aryan