AUS VS IND,PERTH TEST, DAY 2: ‘नो बॉल’ मामले पर इशांत शर्मा ने ऑस्ट्रेलियाई मीडिया को जमकर लताड़ा

By Tripti Sharma

भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले जाने वाले दूसरे पर्थ टेस्ट मैच में ऑस्ट्रेलिया टीम अपनी पहली पारी में 326 रनों में सिमट गई. इसके बाद पहली पारी खलेने उतरी भारतीय टीम ने 3 विकेट खोकर 172 रन बना लिए हैं. लेकिन इन सभी के बीच भारतीय तेज गेंदबाज़ इशांत शर्मा सवालों के घेरे में आकर खड़े हो गए हैं .

ईशांत शर्मा ने दिया करारा जवाब

दरअसल मैच खत्म होने के बाद जब भारतीय टीम की मीडिया प्रभारियों से बात करने की बारी आई तो,ऑस्ट्रेलिआई मीडिया ने इशांत शर्मा से उनके ‘फ्रंट-फुट नो बॉल’ की चर्चा पर कुछ सवाल किये ,जिससे इशांत शर्मा भड़क गए और ऑस्ट्रेलियाई मीडिया को आड़े हाथों लिया.

क्या है पूरा मामला?

ऑस्ट्रेलिया के अखबार डेली टेलीग्राफ ने इशांत शर्मा पर कुछ दिनों पहले सवाल उठाये थे. अखबार में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक एडिलेड टेस्ट में इशांत शर्मा ने एक ही ओवर में 6 नो बॉल फेंकी, लेकिन अंपायर उनको पकड़ नहीं सके और वो सोते रहे.

ऑस्ट्रेलियाई अखबार के मुताबिक एडिलेड टेस्ट की पहली पारी में ईशांत शर्मा ने कुल 16 बार नो बॉल फेंकी लेकिन अंपायरों ने 5 ही गेंदों को नो बॉल करार दिया. इसमें से दो बार तो इशांत शर्मा ने विकेट भी लिया, लेकिन डीआरएस में नो बॉल पकड़े जाने से वो विकेट नहीं ले सके.

रिकी पॉन्टिंग ने उठाया मामला

इशांत शर्मा के ‘फ्रंट-फुट नो बॉल’ फेंकने का मामला रिकी पॉन्टिंग ने उठाया था. दरअसल एडिलेड टेस्ट के दौरान ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान पॉन्टिंग कमेंट्री कर रहे थे. इस दौरान उन्होंने एक ही ओवर में चार बार इशांत शर्मा को नो बॉल फेंकते हुए पाया, लेकिन अंपायर ने उसे नो बॉल करार नहीं दिया.

मामले की जाँच की गई

पॉन्टिंग के बार-बार बोलने के बाद इस मामले को हवा मिल गई . और इसकी जांच की जिम्मेदारी फॉक्स स्पोर्ट्स को दी .  जांच में पाया गया की इशांत शर्मा ने एक ही ओवर में 6 बार ओवर स्टेप, यानी नो बॉल की थी. हैरानी की बात ये है कि अंपायर ने एक भी गेंद को नो बॉल नहीं दिया.

Tripti Sharma