कमिंस की भविष्यवाणी को गलत ठहराया :
ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज  गेंदबाज ब्रेट ली नें भारतीय कप्तान विराट कोहली का समर्थन करते हुए कहा है कि वे एक अच्छी शृंखला खेलकर जाएंगे. भारतीय बल्लेबाज कोहली का पिछला ऑस्ट्रेलिया दौरा काफी शानदार रहा था. ऑस्ट्रेलिया में सन 2014 में खेलते हुए उन्होने 4 शतक बनाए थे. कोहली नें 86.50 की औसत से  692 रन बनाए थे. ब्रेट ली का मानना है कि विराट कोहली की रनों की भूख उनके लिए काफी अच्छा परिणाम लाएगी और वो काफी बड़े स्कोर करेंगे.
इस साल के अन्त में भारत ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ऑस्ट्रेलिया की सरजमी पर मुकाबला खेलेगा. ली ने कहा कि, “कोहली को अभी काफी कुछ साबित करना है, और वो साबित करेंगे कि वो क्यों इतने बेहतरीन हैं.
उन्होने आगे कहा कि कोहली का ये साल काफी शानदार रहेगा और वो कई शतक भी अपने नाम करेंगे. मैंने उनके जैसा रनों का भूखा और रनों के लिए तत्पर खिलाड़ी आजतक नहीं देखा.”
पेट कमिंस नें जब यह कहा कि कोहली इस वर्ष बुरी तरह फैल. होंगे और रन जुटाने में नाकामयाब रहेंगे उसके बाद, ली नें यह सब कहा. यह एक बुरी प्रेडिक्सन थी क्योकि कोहली नें यहां ऑस्ट्रेलिया में  8 टेस्ट मैच में 5 शतक ठोक चुके हैं.
ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाजों को उनके खिलाफ अच्छा करना होगा : मैकेग्राथ
मैकेग्राथ का कहना ये है कि ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाजों को कोहली के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन करके, उनपर दबाव बनाना होगा.उन्होने आगे यह कहा कि भारतीय कप्तान को आउट करना सबसे ज्यादा जरूरी है.
उन्होने कहा कि, ” मैं चाहता हूं कि ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाज उनपर दबाव बनाएं और मैं यह देखना चाहता हूं कि वे किस तरह इस दबाव से उबरते हैं.”
“कोहली का व्यवहार काफी सकारात्मक है और जब वे पिछली बार यहां थे तब उन्होने दिखाया था कि वे पीछे हटने वालों में से नहीं.” 
“यह बहुत अच्छी गर्मियां बीतेंगी. अगर ऑस्ट्रेलिया के गेंदबाज विश्व के नंबर वन बल्लेबाज और विपक्षी कप्तान को आउट करने में सफल हुए तब, सबकुछ उनके लिए आसान होगा. “
कोहली का ग्राफ बढ़ा है तब से :
कोहली के आंकड़ो में 2014 के दौरे के बाद बड़ी उछाल और बढ़ोत्तरी देखने को मिली है.
शृंखला के पहले, उन्होने 29 टेस्ट मैच में 6 शतक की मदद से 39.46 की औसत से 1855 रन मारे थे.
लेकिन इस शृंखला के बाद, उन्होने लगातर पांच शतक लगाते हुए 37 टेस्ट मैच में 64.89 की औसत से 3699 रन बनाए.
उनके द्वारा एकमात्र असफल शृंखला जो खेली गई वो, बार्डर गावस्कर शृंखला थी. यह भारत में खेली गई थी और कोहली ने इसमे 9.20 की औसत से कुल 46 रन बनाए थे. पर ली का और हर किसी का मानना है कि वो धमाकेदार वापसी करेंगे.