पाकिस्तान की बादशाहत क्रिकेट के सबसे छोटे प्रारूप यानी T20 में अब तक कामयम हैं। हाल ही में ऑस्ट्रेलियाई टीम को तीन मैचों की T20 सीरीज़ में 3-0 से हराने के बाद अब न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले जा रहे तीन T20 मैचों की सीरीज़ के पहले दो मैच जीत कर ये सीरीज़ भी अपने नाम कर लिया है।


शुक्रवार रात खेले गए सीरीज़ के दूसरे T20 मुकाबले में न्यूज़ीलैंड की टीम ने पहले टॉस जीत कर बल्लेबाज़ी करने का फैसला किया और यह फैसला काफी हद तक कामयाब भी रहा। पहले बल्लेबाज़ी करने आई न्यूज़ीलैंड की टीम को ओपनर कोलिन मुनरो और ग्लेन फ़िलिप्स ने अच्छी शुरुआत दिलाई।

दोनो ओपनरों ने पहले विकेट के लिए 5.5 ओवर में 50 रन जोड़े। इन 50 रनों में अधिक योग्यता मुनरो का ही रहा क्यों की फ़िलिप्स केवल 5 रन ही बना पाए जिसके लिए उन्होंने 12 गेंदे भी खेली। पहले झटके के बाद जल्दी ही दूसरा विकेट भी गिर गया और अच्छी बल्लेबाज़ी कर रहे मुनरो 28 गेंद में 4 चौके और 2 छक्के की मदद से 44 रन बना कर चलते बने।

मुनरो के विकेट गिरने के बाद न्यूज़ीलैंड का कोई अन्य बल्लेबाज पाकिस्तानी गेंदबाज़ों का सामना नही कर पाए और नियमिय अंतराल पर विकेट जाते रहे। बल्लेबाज़ी के लिए काफी मुश्किल लग रहे विकेट पर कप्तान विलियम्सन 34 गेंद में 37 रन और 25 गेंद में 44 रन बनाने वाले कोरी एंडरसन ही कुछ हद तक गेंदबाज़ों का सामना कर पाए। टीम 20 ओवर में 7 विकेट खो कर 153 रन बनाने में कामयाब रही। पाकिस्तान की ओर से सबसे कामयाब गेंदबाज़ तीन विकेट लेने वाले शाहीन अफरीदी रहे।

154 रन के लक्ष्य के सामने पाकिस्तन की भी शुरुआत ठोस रही और पहले विकेट के लिए 44 रन जोड़े। पहला विकेट फखर जमा का गिरा। इसके बाद भी छोटे छोटे पार्टनशिप बनते रहे जिस कारण पाकिस्तान 2 गेंद और 6 वीकेट बाकी रहते मैच और सीरीज़ दोनो जितने में कामयाब रहा। पाकिस्तान की ओर से बाबर आज़म ने 41 गेंद में 40, आसिफ अली ने 34 गेंद में 38 और मोहम्मद हफ़ीज़ ने 21 गेंद में 34 रन की मैच जिताऊ पारी खेली।