दुनिया के मौजूदा #1 बल्लेबाज विराट कोहली ने 26 साल की उम्र में टीम इंडिया की टेस्ट कप्तानी संम्भाली ।पूर्व कप्तान एमएस धोनी ने 2014 में खेल से अचानक सन्यास की घोषणा की उसके बाद कोहली ने टीम की कमान संम्भाली। तब से कोहली ने कप्तान के रूप मैं अच्छा प्रदर्शन किया और काफी रिकार्ड्स भी बनाये।

एक छोटी उम्र होने के नाते, कोहली अभी भी 7-8 साल के लिए टीम को ली़ड कर सकते हैं। इस समय के दौरान आपको यकीन दिलाया जा सकता है कि टीम इंडिया और काफी रिकार्ड्स तोड़ेगी। कप्तान के रूप में फेन्स और सलाहकारों ने कोहली के लिए ये भविष्यवाणी की |  कोहली के प्रति विरेंदर सहवाग ने एक बोल्ड भविष्यवाणी की

‘क्रिकेट की बात’ शो पर इंडियाटीवी के साथ एक इंटरव्यू के दौरान सहवाग ने कोहली के बारे में बहुत कुछ कहा। सहवाग ने कहा कि एक कप्तान के रूप में, उनका काम जीतना ही नहीं बल्कि सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना और अपनी टीम को जीत के लिए मार्गदर्शन करना है। वर्तमान कप्तान को इस मामले में लाकर, उन्होंने कहा, कोहली का प्रदर्शन बेहद अच्छा है । उन्होंने यह भी टिप्पणी की कि कोहली का बल्लेबाज के रूप में बहुत सुधार हुआ है। “वह आने वाले समय में भारत के सर्वश्रेष्ठ कप्तानों में से एक होगा। इसके बारे में कोई संदेह नहीं है। “सहवाग ने कहा।

 

कप्तान के रूप में, कोहली ने प्रत्येक मैच से पहले प्लेइंग 11 को बदलने का अपना अलग  स्टाइल बनाया है । उन्होंने कभी भी पिछली  प्लेइंग 11 को अगले मैच मे इस्तमाल नहीं किया। 38 टेस्ट मैचों में उन्हें देखा गया है की , उन्होंने प्लेइंग 11 में  कम से कम एक बदलाव किया है।

इस रवैये ने  चौथे टेस्ट मैच से पहले टीम पर काफी सवाल उठाए हैं। इस बार ऐसा लगता है की कोहली को सेम प्लेइंग 11 के साथ खेलना पड़ सकता है जैसा कि उन्होंने तीसरे टेस्ट मैच में किया था। वर्तमान में, एकमात्र खिलाड़ी आर अश्विन है जिनके खेलने पर संदेह है । ऐसा इसलिए है क्योंकि वह लॉर्ड्स के पहले टेस्ट मैच के बाद से तनाव और दर्द से पीड़ित हैं।

यदि अश्विन को खेलने के लिए मंजूरी दे दी जाती है, तो टीम में किसी को भी बदलने का कोई कारण नहीं होगा। ट्रेंट ब्रिज में खेली गई टीम प्रभावी और अच्छी थी। कई प्रशंसकों और सलाहकारों का मानना ​​है कि इसे बदलने का कोई कारण नहीं है। चौथा टेस्ट मैच 30 अगस्त को साउथेम्प्टन में शुरू होगा। वर्तमान में, इंग्लैंड 2-1 से आगे है। इसने भारत पर बहुत दबाव डाला है क्योंकि यदि इंग्लैंड चौथा टेस्ट जीतता है, तो वे सीरीज जीत जायगे ।

सहवाग, जिसने कोहली के लिए यह साहसी और पॉजिटिव बातें की साथ ही ये भी कहा कि इंडिया के लिए 4th टेस्ट मैच ‘करो या मरो ‘मैच है । उन्होंने यह भी कहा कि यह कठिन होगा लेकिन हमारे लड़कों और हमारी टीम के लिए असंभव नहीं होगा।