विश्व कप जीतने की पूरा प्रयास करूंगा 

 

दक्षिणी अफ्रीकी तेज गेंदबाज डेल स्टेन का का मानना है कि विश्व कप 2019 के बाद सीमित ओवर का क्रिकेट खेलने की उन्हे कोई जरूरत नहीं है. कई तरह की चोटों से जूझने के बाद महान खिलाड़ी ने सन्यास के इशारे दिए हैं.
एक प्रोमोशनल इवेंट में मुम्‍बई आकार स्टेन ने कहा कि, ” मैं इंग्लैंड में होने वाला विश्वकप जीतने का भरपूर प्रयास करूंगा. मुझे नहीं लगता कि उसके बाद मुझे खेलने की आवश्यकता है गौरतलब है कि उसके बाद मैं लगभग 40 का हो जाऊंगा.”
स्टेन को लगता है कि उनका असीम और कीमती अनुभव उन्हे वर्ल्ड कप की टीम में जरूर शामिल करवाएगा.
वे कहते हैं कि,” मुझे लगता है कि मेरे अनुभव के कारण मुझे वर्ल्ड कप की टीम में जगह मिलेगी, मैं तबतक खेलूँ या नहीं लेकिन कोशिश पुरी रहेगी वर्ल्ड कप खेलने की. “
टेस्ट क्रिकेट में वापसी कर सकता हूं
” जब कभी बात टेस्ट क्रिकेट की आती है तो मैं हर बाधा को पारकर खेलना चाहता हूं. टेस्ट क्रिकेट में जब तक मेरा शरीर साथ देगा मैं खेलूंगा. मैं अभी चोटों से उबर कर आया हूँ और आगे खेलने की उम्मीद रखता हूं. मैंने अपने कंधा पहले मैच में ही तोड़ लिया था.”
उन्होने आगे कहा कि,” यह काफी मुश्किल होता है जब आपके कंधे जैसा कोई अंग प्रभावित हो. क्योकि यह मुख्य अंग है और तब तो मुश्किल और बढ़ जाती है जब गेंदबाजी वाला कंधा ही चोटिल हो जाए. मैंने फिलहाल दो मैच खेले जिसमे मैंने लगातार तेज गति से ओवर डाले. यह मेरे लिए अच्छा संकेत हैं.”
स्टेन को वापसी के बाद विकेट के लिए संघर्ष करना पड़ा है. उन्हें पहले मैच की दोनों पारियों में बस एक एक विकेट मिला और अगले मैच में उनका खाता खाली रहा.
उन्होने इसपर आगे समझाते हुए कहा कि,” विकेट मिलना  एक ऐसी घटना है जो शायद हर गेंदबाज के लिए हर मैच में नहीं होती, पर हाँ, मैंने अपना शत प्रतिशत मैदान पर दिया. यह मेरे लिए उपलब्धि है.”