मोहम्मद शमी किस से हैं प्रभावित

 

भारतीय तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी को उनके टेस्ट डेब्यू पर उनके फाइव विकेट हौल के लिए जाना जाता है. उनका डेब्यू वेस्ट इंडीज के खिलाफ, 2013 में हुआ था. मौजूदा वक़्त में वो इंग्लैंड के खिलाफ पांच मुकाबलों की शृंखला खेल रहे हैं. उस दौरान उन्होने बताया कि वे किस तरफ़ खुद को प्रेरित करते हैं और किससे प्रभावित हैं.

 

इनका प्रेरक व्यक्ति और कोई नहीं, जेम्स एंडर्सन हैं. जेम्स जिस तरह हर बल्लेबाज को दिशाहीन कर देते हैं. वे जिस तरह कम रफ्तार से भी बल्लेबाज को गुमराह करते हैं. उनकी नीतियां, यह सभी शमी को प्रभावित करती है. चौथे टेस्ट मैच की शाम को शमी ने जेम्स एंडर्सन को शुभकामनाएं दी. गौरतलब है कि जेम्स एंडर्सन और सात विकेट लेकर टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में सबसे ज्यादा विकेट लेने वालों की सूची में चौथे नंबर पर आ जाएंगे. वे ग्लेन मैकग्राथ का 563 विकेट का आंकड़ा पार कर देंगे.

रिपोर्टर्स के साथ बात करते वक़्त उन्होने कहा कि, एंडर्सन के मामले में उनकी तकनीक सबसे ज्यादा प्रभावित करती है. एंडर्सन के पास भारतीय गेंदबाजों की तरह रफ्तार नहीं है, वे फिर भी विकेट लेते हैं. शमी ने ये विश्लेषण किया कि उनकी लेंथ ही उनकी ताकत है. शमी ने जो मुख्य बात एंडर्सन से सीखी वह यह थी कि किस तरह, परिस्थिति के अनुसार आप अपनी लेंथ बदल सकते हैं.

 

शमी ने कहा कि यह फर्क नहीं पड़ता खिलाड़ी कहा से आता है, गौरतलब है कि वह कहा कैसा प्रदर्शन करता है. शमी ने एंडर्सन से यह भी सिखा की किस तरह निरंतर एक ही स्थान पर गेंदबाजी करें.

 

मौजूदा स्तिथि 

 

शमी ने तेज गेंदबाजों की महत्ता को समझाया, उन्होने कहा कि उनका काम होता है परिस्थिति के अनुसार प्रदर्शन करना. उन्होने कहा कि तेज गेंदबाजों की मेहनत दक्षिण अफ्रीका की सीरीज में देखी जा सकती है, जहां उन्होने 60 विकेट लिए थे.

 

टीम में हर मैच में विराट के फेर बदल पर विराट के क्रिटिक से, शमी ने कहा कि, यह खिलाड़ियों के लिए काफी बेहतर है. विराट की इसी नीति के कारण हमारे पास बेंच पर भी अच्छे अच्छे खिलाड़ी है. इससे गेंदबाजों को आराम मिलता है. विराट की इसी नीति से खिलाड़ियों को आराम और रिकवर होने का वक़्त मिलता है.

 

टीम के तेज गेंदबाजों पर बात करते हुए शमी ने कहा कि, तेज गेंदबाजी काफी प्रभावी है और सारे गेंदबाज किसी भी तरह की गेंदबाजी को करने के लिए तैयार है. एक और नाम जो इन सब के बीच दिमाग में आता है वह है, रविचंद्रन अश्विन. स्पिन गेंदबाज को साइड स्ट्रेन के कारण दिक्कत का सामना करना पड़ रहा है. हालांकि उन्होने चौथे मुकाबले के पहले नेट्स पर गेंदबाजी की है, पर औपचारिक तौर पर अब तक कोई भी घोषणा नहीं हुई है.