December 20, 2018
| On 6 महीना ago

स्टीव स्मिथ की फिर बढ़ी मुश्किलें, अब इस बड़े टूर्नामेंट में नहीं ले सकेंगे हिस्सा

By Avinash Aryan

बॉल टेम्परिंग की वजह से एक साल का बैन झेल रहे स्टीव स्मिथ की मुश्किलें अब तक नहीं थमी है. स्टीव स्मिथ पर बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड ने खेलने से प्रतिबंध लगाया है. यानी अब स्मिथ बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड में हिस्सा नहीं ले पाएंगे. बोर्ड का मानना है कि स्टीव स्मिथ ने बीपीएल के नियम का उल्लंघन किया है.

स्टीव स्मिथ नहीं खेल पाएंगे बीपीएल

गौरतलब है कि स्मिथ ने बीपीएल की फ्रेंचाइजी कोमिला विक्टोरियंस के साथ करार किया था. कोमिला विक्टोरियंस ने उन्हें श्रीलंकाई बल्लेबाज असेला गुणारत्ने की जगह अपनी टीम में शामिल किया था. लेकिन, बीपीएल के एक नियम की वजह से स्मिथ को इस लीग से हटना पड़ रहा है.

दरअसल, नियम के अनुसार रिप्लेसमेंट के तौर पर उसी के साथ करार किया जा सकता है, जिसका नाम खिलाड़ियों के शुरुआती ड्राफ्ट में शामिल रहा हो. स्टीव स्मिथ के मामले में ऐसा नहीं था. उनका नाम नीलामी में शामिल नहीं था.

बाकी टीम मालिकों ने जताया ऐतराज

ऐसे में बाकी फ्रेंचाइजियों ने स्मिथ के टीम में आने पर ऐतराज जताया. और तक तक जिद पर अड़े रहे. जब तक बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड ने स्मिथ को खेलने से मना नहीं किया. ये सब दबाव में हुआ है. वरना, कोई भी देश चाहेगा कि स्मिथ जैसे बड़े प्लेयर्स उनके टूर्नामेंट में हिस्सा लें. इससे उस टूर्नामेंट की लोकप्रियता बढती है.

बोर्ड की तरफ से आया बयान

बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड के प्रमुख निजामुद्दीन चौधरी ने कहा, “टूर्नामेंट के नियम के तहत यदि कोई फ्रेंचाइजी वैकल्पिक खिलाड़ी को चुनती है तो उसका नाम शुरूआती ड्राफ्ट में होना चाहिये लेकिन स्मिथ का नाम नहीं था.’ उन्होंने कहा, ‘कुछ टीमों ने इस पर आपत्ति जताई तो हमने उन्हें बीपीएल से बाहर कर दिया.”

खैर, स्टीव स्मिथ पाकिस्तान प्रीमियर लीग में खेलते नजर आएँगे. इसके अलावा 29 मार्च को स्मिथ का बैन पूरा हो रहा है. इसके बाद वह नेशनल ड्यूटी के लिए उपलब्ध रहेंगे. हालांकि, पूर्व ऑस्ट्रेलियाई उपकप्तान डेविड वॉर्नर बांग्लादेश प्रीमियर लीग में खेल सकेंगे. उन्हें सिल्हेट सिक्सर्स टीम का कप्तान भी बनाया गया है.

Avinash Aryan