ऑस्ट्रेलिया में चली चहल की फिरकी, कोच शास्त्री का 28 साल पुराना रिकॉर्ड भी टूटा

By Taranjeet Sikka

भारत का ऑस्ट्रेलियाई दौरा जीत के साथ खत्म हुआ है। वनडे सीरीज को भारत ने 2-1 से जीत ली है। इस जीत में जहां बल्ले से धोनी ने कमाल किया है तो वहीं पहले दो वनडे मैचों में बेंच में बैठने वाले लेग स्पिनर युजवेंद्र चहल ने तीसरे वनडे में धमाल मचा दिया है। सिडनी और एडिलेड ओवल में खेले गए पहले दोनों वनडे मैचों में बेंच में बैठने वाले चहल को ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ तीसरे वनडे मैच में मौका दिया गया।

मेलबर्न में खेले गए इस वनडे में कुलदीप यादव की जगह पर चहल को मौका दिया गया और इस मैच में उन्होंने ऐसा प्रदर्शन किया जिससे इतिहास बन गया है। युजवेंद्र चहल की फिरकी के जादू से भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 48.4 ओवर में 230 रनों पर ही ऑल आउट कर दिया। चहल ने वनडे करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया है और 42 रन देकर 6 विकेट लिए हैं।

इस ऐतिहासिक प्रदर्शन के बाद युजवेंद्र चहल ऑस्ट्रेलिया की जमीन पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक वनडे मैच में 6 विकेट हॉल लेने वाले दुनिया के पहले स्पिनर बने हैं। इससे पहले ये कारनामा रवि शास्त्री के द्वारा किया गया था और इसे उन्होंने साल 1991 में किया था। इस मैच में 15 रन देकर शास्त्री ने 5 विकेट अपने नाम किए थे।

ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक वनडे मैच में सबसे बेस्ट प्रदर्शन

  • 6/42 युजवेंद्र चहल, मेलबर्न, 2019
  • 5/15 रवि शास्त्री, वाका पर्थ, 1991
  • 5/29 सकलैन मुश्ताक, एडिलेड, 1996
  • 5/53 अब्दुल कादिर, मेलबर्न, 1984

आपको बता दें कि इससे पहले चहल का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन दक्षिण अफ्रीका के सेंचुरियन में 22 रन देकर 5 विकेट लेने का था। इससे पहले अजित अगरकर ने भी इसी मैदान पर 42 रन देकर 6 विकेट लिए थे। ये इस मैदान पर किसी विदेशी गेंदबाज का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन भी है। अगरकर ने साल 2004 में ट्राई वनडे सीरीज में ये प्रदर्शन किया था।

ऑस्ट्रेलिया में वनडे में एक गेंदबाज का बेस्ट प्रदर्शन

  • 6/42 अजित अगरकर, मेलबर्न, 2004
  • 6/42 युजवेंद्र चहल, मेलबर्न, 2019
  • 6/43 मिशेल स्टार्क, मेलबर्न, 2015
  • 6/45 क्रिस वोक्स, ब्रिस्बेन, 2011
Taranjeet Sikka