| On 11 months ago

भारत ने दी पाकिस्तान को करारी शिकस्त!

By Vandana Mrigwani
भारत ने दी पाकिस्तान को करारी हार
पाकिस्तान ने अपने प्रदर्शन से लगभग हर बार यही साबित किया है कि चैंपियन्‍स ट्रॉफी में उनकी जीत केवल एक तुक्का भर था. गौरतलब है कि रविवार को हुए भारत बनाम पाकिस्तान मुकाबले में भारत ने प्रमुख विरोधियों को फिर 9 विकेट से करारी हार दी है.
रोहित शर्मा (नाबाद 112) और शिखर धवन (114) ने पहले विकेट के लिए 210 रनों की साझेदारी करते हुए जीत की नींव रखी. गौरतलब है कि यह भारत की ओर से पाकिस्तान के खिलाफ सबसे बड़ी साझेदारी है. इससे पहले सचिन तेंदुलकर और सौरव गांगुली के नाम यह रिकॉर्ड था. गौरतलब है कि एशिया कप में यह भारत की पाकिस्तान पर लगातार दूसरी जीत है.

पाकिस्तान की फील्डिंग में कई कमियां थी जो पिछले मैच में जाहिर हुई. मैच के दौरान कहीं भी ऐसा नहीं लगा कि पाकिस्तान के फील्डर मैच जीतने के इरादे से मैदान पर उतरे हैं. गौरतलब है कि पाकिस्तान के सबसे फुर्तीले फील्डर शादाब खान ने शॉर्ट पॉइंट पर रोहित शर्मा का कैच छोड़कर उन्हे जीवनदान दिया और इसी मैच में कप्तान रोहित शर्मा को दूसरा जीवन दान तब मिला जब शाहीन अफरीदी की गेंद पर इमाम उल हक़ ने उनका आसान सा कैच छोड़ दिया.
पाकिस्तान के तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर को उस्मान खान की जगह पर टीम में जगह दी गई थी. गौरतलब है कि पिछले साल चैंपियंस ट्रॉफी में किए गए प्रदर्शन के दम पर उन्हे टीम में जगह मिली और उम्मीद लगाई जा रही थी कि वे वही प्रदर्शन दुबारा दोहराएंगे. दुर्भाग्यवश सरफराज़ की यह योजना बिल्कुल भी काम नहीं आ सकी और मोहम्मद आमिर ने वही किया जो वो पिछले दस मुकाबलों में कर रहे थे. उन्होने 5 ओवर में 41 रन दिए, जिसके कारण हसन अली को गेंद थमानी पड़ी. पर जिस लय में शिखर धवन इस प्रतियोगिता में नजर आए हैं, उनके आगे किसी भी गेंदबाज की एक नहीं चली.

शिखर धवन ने अपनी अच्छी लय बरकरार रखते हुये, इसी मुकाबले में अपने करियर का 15वां शतक लगाया. गौरतलब है कि वे ऐसा करने वाले तीसरे सबसे तेज बल्लेबाज हैं. उनसे तेज ऐसा करने वाले तो बल्लेबाज हाशिम अमला और विराट कोहली हैं. रोहित शर्मा, जो कि मुकाबले में कई बार भाग्यशाली साबित हुए, उन्होने भी इस मुकाबले में शतक लगाया. गौरतलब है कि यह उनके करियर का 19वां शतक था और इस दौरान वे 7,000 रन पूरे करने वाले दूसरे सबसे तेज भारतीय बल्लेबाज भी बन गये. शतक लगाने के बाद आखिर में विकेट के बीच गलतफ़हमी के कारण शिखर धवन रन आउट हो गए और उनके बाद आए अंबाती रायडू ने नाबाद रहकर भारत को जीत की दहलीज पार कराई.
एक समय पर पाकिस्तान का ऊपरी क्रम काफी सस्ते में आउट हो चुका था और कयास लगाए जा रहे थे कि पिछले मैच की तरह ही पाकिस्तान ऑल आउट हो जाएगा. इमाम उल हक़ और फखर जमान के आउट होने के बाद आये शोएब मलिक और सरफराज़ ने पारी को संभाला.

गौरतलब है कि इमाम चहल की गेंद पर पगबाधा आउट हुए थे और उनके बाद कुलदीप यादव की गेंद पर छह मरने के प्रयास में फखर ज़मान असंतुलित होकर गिर गए जिसके कारण वे भी पगबाधा आउट हो गए. ज़मान ने बाबर आज़म से बात करके रिव्यू न लेने का फैसला किया, पर रिप्ले में यह साफ नजर आया कि गेंद उनके पैड पर नहीं लगी थी और वे नॉट आउट थे. इस विकेट के बाद मुकाबले का रुख बदल गया और बाबर आज़म भी अगले ही ओवर में रन आउट हो गए, जिसके बाद पाकिस्तान की पारी 3-58 पर पहुंच गई.

ऊपरी क्रम के नाकाम होने के बाद बल्लेबाजी करने आए मलिक (78) और सरफराज़ (44) ने 107 रनों की साझेदारी की, जिससे पाकिस्तान फिर से मुकाबले में वापस आ गया. सरफराज़ के आउट होने के बाद बल्लेबाजी करने आए आसिफ अली ने भुवनेश्वर के एक ही ओवर में कुल 22 रन लगाकर अपने अंदेशे साफ कर दिये थे. पर जसप्रीत बूमराह ने उन्हे आउट करके बता दिया कि उन्हे अंतिम ओवर का विशेषज्ञ क्यूँ माना जाता है.
बूमराह ने अपने आखिर चार ओवर में केवल 15 रन दिए और लय में नजर आ रहे शोएब मलिक को आउट किया. रोहित शर्मा और शिखर धवन की पारियों के आगे पाकिस्तान बिल्कुल वापसी नहीं कर पाया.

गौरतलब है कि दो मुकाबलों में जीत हासिल करके भारत एशिया कप के फ़ाइनल में अपनी जगह बना चुका है. अब पाकिस्तान और बांग्लादेश के बीच होने वाले मुकाबले में जीतने वाली टीम भारत के खिलाफ फाइनल में खेलेगी.
स्कोरकार्ड :-
पाकिस्तान ( 7-237, शोएब मलिक 78, जसप्रीत बूमराह 2-29)
भारत (1-239 रोहित शर्मा 111 नाबाद, शिखर धवन 114)
भारत ने यह मुकाबला नौ विकेट से अपने नाम किया!
पाकिस्तान ने अपने प्रदर्शन से लगभग हर बार यही साबित किया है कि चैंपियन्‍स ट्रॉफी में उनकी जीत केवल एक तुक्का भर था. गौरतलब है कि रविवार को हुए भारत बनाम पाकिस्तान मुकाबले में भारत ने प्रमुख विरोधियों को फिर 9 विकेट से करारी हार दी है.
Vandana Mrigwani