टेस्ट श्रृंखला में काफी निराशाजनक प्रदर्शन करने के बाद शिखर धवन ने एशिया कप के पहले ही मुकाबले में शतक लगाकर एकदिवसीय क्रिकेट में अपना महत्व बता दिया है. पूर्व भारतीय खिलाड़ी अजित अगरकर को तो यहां तक लगता है कि शिखर धवन और रोहित शर्मा किसी भी मुकाबले में भारतीय जीत के मुख्य कारक हैं.

 

ऐसा लगा कि जैसे होंग कोंग के गेंदबाज, नेट गेंदबाज हो : अजित अगरकर 
एक ऑनलाइन पोर्टल से कल अजित अगरकर ने धवन की पारी की चर्चा की. अगरकर ने कहा कि धवन ने बता दिया कि वे क्युं टीम के लिए जरूरी हैं.

 

पूर्व खिलाड़ी ने कहा कि हालांकि होंग कोंग की गेंदबाजी नेट गेंदबाजों की तरह ही थी, पर फिर भी क्रीज पर समय बिताना और शतक लगाना आसान नहीं. और धवन ने यह करके दिखाया है.

 

सलामी बल्लेबाजों में किसी भी एक का चलना भारत के लिए बेहतर 
अगरकर ने यह भी कहा कि रोहित शर्मा अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे, पर उन्होने अपने विकेट को आसानी से खो दिया और धवन ने ऐसा न करते हुए शतक बनाया.

 

अगरकर के अनुसार धवन और रोहित शर्मा में से एक खिलाड़ी भी जब चलता है तब भारत के लिए चीजें आसान हो जाती हैं. उन्होने आगे कहा कि भारतीय मध्य क्रम अभी अवव्यस्थित हैं, इसलिए सलामी बल्लेबाज और ऊपरी क्रम के बल्लेबाजों का चलना जरूरी है.

 

अगरकर ने धवन की तारीफ की 
अगरकर ने कहा कि होंग कोंग की गेंदबाजी के ऊपर ज्यादा चर्चा नहीं की जा सकती. आसान गेंदबाजी के खिलाफ भी आपको जाकर रन तो बनाने ही होते हैं.
उन्होने कहा कि धवन ने हमेशा दिये गये रूम का फायदा उठाया और कट शॉटस लगाए. अजीत ने कहा कि शतक लगाना काफी मुश्किल काम है, और धवन हमेशा ही यह करते आए हैं.

 

अगरकर ने कहा कि धवन ने शतक लगाकर स्ट्राइक रेट को जिस प्रकार बढ़ाया वह भी तारीफ के काबिल था.
एशिया कप के अगले मुकाबले में भारत की भिड़ंत पाकिस्तान से होगी.

 

धवन की पारी को ट्विटर पर भी काफी सराहा गया.