इंग्लैंड नें किस तरह तीसरे एकदिवसीय में भारत के खिलाफ की जीत हासिल

इंग्लैंड में 2-1 से जीती श्रंखला
इंग्लैंड नें मंगलवार को निर्णायक मुकाबले में भारत को 8 विकेट से हराते हुए, श्रंखला को 2-1 से अपने नाम कर लिया.

 

रूट और मार्गन का लगातार संघर्ष :

 

जो रूट में इस मैच मे अपना लगातार दूसरा शतक लगाया, और वहीं इयोन मार्गन नें भी इसी मैच में एक नाबाद अर्ध शतक की पारी खेली थी. और अंत में इस साझेदारी में भारतीय गेंदबाजी को तहस नहस करते हुए शृंखला, और मैच दोनों अपने नाम किया. सलामी बल्लेबाज विंस और बेरस्तो नें क्रमशः 27 और 30 रन की पारी खेली. दोनों नें इंग्लैंड को अच्छी शुरुआत दी थी.

 

इंग्लैंड के गेंदबाजों ने भारत की बैकफूट पर धकेला :

 

पारी की शुरुआत में, इंग्लैंड के गेंदबाज आदिल राशिद और डेविड विल्ली में 3-3 विकेट लेते हुए भारतीय बल्लेबाजी को तहस नहस कर दिया. एकमात्र विराट कोहली नें अच्छा प्रदर्शन करते हुए 71 रन बनाए, और टीम का स्कोर 256 तक पहुंचाया. भारत ने एक धीमी शुरुआत करते हुए शुरू के 10 ओवर में 32 रन बनाए केवल एक विकेट खोते हुए. गौरतलब है कि इंग्लैंड में टॉस जीत कर भारत को बल्लेबाजी की लिए आमंत्रित किया था.
कोहली और धवन नें पारी को गति देने की कोशिश की और, टीम ने अगले 10 ओवर में ताबड़तोड़ 68 रन बनाए. बेन स्टोक की शानदार फील्डिंग ने शिखर धवन को रन आउट कर दिया. धवन के जाने के बाद भारत के विकेट लगतार अंतराल पर गिरते गए.

 

राशिद ने कोहली को वापस भेजा :

 

लेग स्पिनर राशिद ने विराट का विकेट चटकया था. भारतीय कप्तान एक शानदार गेंदबाज के खिलाफ आउट हुए थे. राशिद की गेंद ने विराट को पूरी तरह हैरान कर दिया था. सभी क्रिकेट प्रेमी इस गेंद को देखकर अचंभे मे थे.

 

भारतीय बल्लेबाजी में नहीं हुई आक्रामक बल्लेबाजी :
इंग्लैंड ने लक्ष्य को 33 गेंद रहते पा लिया था. शार्दूल ठाकुर के सिवा किसी और गेंदबाज को विकेट नहीं मिला था. इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का निर्णय लिया था. सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा केवल 2 रन बनाकर सस्ते मे चलते बने, और उनके जाने के बाद सलामी बल्लेबाज शिखर धवन और कप्तान कोहली ने क्रमशः 44 और 71 रन जोड़े. इन दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 71 रन की साझेदारी निभाई. पूर्व कप्तान धोनी (42), हार्दिक पांड्या(21), भुवनेश्वर कुमार (21) और शार्दूल ठाकुर (22 नाबाद) ने भी अपना योगदान दिया, टीम के टोटल को 256 तक पहुंचाने में.
जहां राशिद को “प्लेयर ऑफ द मैच” से नवाजा गया वही, रूट ने ” प्लेयर ऑफ द सीरीज” का खिताब अपने नाम किया था.
भारत ने पहला एकदिवसीय मुकाबला 8 विकेट से जीता था, पर इंग्लैंड ने शानदार वापसी करते हुए इस शृंखला को 2-1 से अपने नाम किया.

Previous Article
Next Article

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *