क्रिकेट के प्रति समर्पण ही मुझे निजी विवादों से ऊपर लाया : शमी

बीते दिनों अपनी पत्नी से जो शमी की विवादित लड़ाई हुई थी, उसके बाद सभी को लगा था कि यह उनके क्रिकेट पर असर करेगा. पर शमी ने साबित किया कि कोई भी विवाद उन्हे क्रिकेट से दूर नहीं रख सकता. उनके खेले जाने पर लोगों को संदेह था, पर वो दुबारा देश के लिए खेल रहे हैं.

 

शमी इसके लिए भगवान का और उनका साथ देने वाले लोगो का शुक्रिया अदा करते हैं. उनकी पत्नी हसीना के साथ उनका विवाद काफी गहराया था, और कई परिस्थितियों में शमी संकट में थे, पर उनके निजी जीवन में घट रही घटनाओं से उनके करियर पर कोई असर नहीं हुआ.

 

शमी का खेलना काफी मुश्किल था, और ये भी मुमकिन था कि भारतीय फैन कभी उन्हे दुबारा खेलता हुआ न देख पाए. पर शमी ने अपनी वापसी से संदेश दिया है कि निजी जीवन की घटनाएं आपका रास्ता नहीं रोक सकतीं.

 

 

शमी बताते है कि उन्होने काफी समय से क्रिकेट नहीं खेला था, वे अपने निजी जीवन में पारी खेल रहे थे. पर उनके विवादों के घेरे ने उन्हे क्रिकेट के प्रति और समर्पित कर दिया. वे कहते हैं कि जब आप देश के लिए खेलते हैं, तब आपके ऊपर बड़ी जिम्मेदारी होती है. मैं अपने काम से खुश हूं, और देश के लिए समर्पित हूँ.

 

टेस्ट क्रिकेट के बारे में पूछे जाने पर शमी कहते हैं कि टेस्ट मैच क्रिकेट का सबसे लंबा स्वरूप है और पांच दिन खेले जाने इन मुकाबलों में आप कभी भी वापसी कर सकते हैं. यह प्रारूप आपको कई मौके देता है. आप लगातार योजनाओं पर काम कर सकते हैं, उनके बारे में सोच सकते हैं. टेस्ट क्रिकेट में आपके समय सीमा नहीं होती. मुझे इस प्रारूप में लंबे स्पेल फेंकना पसंद है.

Previous Article
Next Article

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *