पहले दो मुकाबलों में भारतीय बल्लेबाजी ने काफी लचर प्रदर्शन किया. पर तीसरे मुकाबले में उन्होने रन बनाना शुरू कर दिया. भारत का प्रदर्शन बैट से काफी संतुष्टि जनक था, क्यूंकि उन्होने पहली पारी में 329 रन बनाए और दूसरी पारी में भी काफी अच्छी शुरुआत दी.

भारतीय टीम के बल्लेबाजी कोच संजय ने भारतीय बल्लेबाजी में हुए सुधार और तकनिक में बदलाव के बारे में काफी कुछ बताया. धवन ने दोनों ही पारियों में काफी अच्छी शुरुआत दी और दोनों पारियों में अच्छे से गेंदों को खेला. संजय ने बताया कि अपनी बैट की गति को उन्होने कम किया जिससे कि वे गेंदों को सही ढंग से खेल पाये. इससे उन्हे स्ट्रोक खेलने में काफी मदद मिली.

 

संजय के अनुसार के एल राहुल ने गेंद की मूवमेंट को ध्यान पूर्वक देखा जिससे उन्हे गेंद खेलने में मदद मिली. राहुल बैक फूट पर खेले और स्विंग को अटैक किया.

रहाणे के अर्ध शतक को भी संजय ने काफी सराहा, पहली पारी में खेली गई यह पारी काफी शानदार थी. रहाणे ने 80 रन बनाकर विराट के 97 रनों की सहायता की.

संजय ने कहा कि रहाणे काफी अच्छे ढंग से खेले और सकारात्मक रूप में खेले. संजय ने बताया कि रहाणे का आत्म्विश्वास उनकी बल्लेबाजी में झलक रहा था. रहाणे के पैर काफी चल रहे थे जिससे उन्हे मदद मिली.

भारतीय कोच ने यह भी कहा कि ऋषभ पंत का लगाया छह काफी शोकिंग था. पंत में काफी आत्म्विश्वास है और आने वाले समय में वे काफी अच्छी बल्लेबाजी करेंगे.