February 10, 2019
| On 2 महीना ago

इन 5 कारणों से भारत को मिली हार, T-20 में इतिहास रचने का गंवाया मौका

By Taranjeet Sikka

न्यूजीलैंड ने रविवार को हेमिल्टन में खेले गए तीसरे और निर्णायक टी-20 मैच में भारत को 4 रनों से मात देकर सीरीज 2-1 से अपने नाम कर ली है। इसी के साथ ही भारत का पहली बार इस देश में द्विपक्षीय टी-20 इंटरनेशनल सीरीज जीतने का सपना भी टूट गया है।

हेमिल्टन में न्यूजीलैंड ने पहले बल्लेबाजी की और चार विकेट पर 212 रनों का विशाल स्कोर बनाया। जिसके जवाब में भारत 20 ओवर में 6 विकेट खोकर 208 रन ही बना सका। भारत के लिए सबसे ज्यादा विजय शंकर ने 43 और कप्तान रोहित शर्मा ने 38 रन बनाए।

वहीं कीवी टीम के लिए मिशेल सेंटनर और डेरिल मिशेल ने 2-2 विकेट लिए। तो आइए एक नजर डालते हैं वेलिंगटन में टीम इंडिया की हार के 5 बड़े कारणों पर:

गेंदबाजों का खराब प्रदर्शन

टी-20 मैच में भारतीय गेंदबाजों का प्रदर्शन पहले टी-20 मैच की तरह ही फ्लॉप रहा है। टीम के पांच गेंदबाजों में से तीन बॉलरों का इकॉनमी रेट 10 से ऊपर रही है। कीवी बल्लेबाजों ने 8 ओवर के अंदर बिना कोई विकेट गंवाए 80 रन बना दिए।

कोलिन मुनरो की विस्फोटक पारी

न्यूजीलैंड के सलामी बल्लेबाज कोलिन मुनरो ने भारतीय गेंदबाजी आक्रमण की धज्जियां उड़ाते हुए 40 गेंदों में 72 रन बनाए। जिससे न्यूजीलैंड ने भारत के खिलाफ 212 रनों का स्कोर बनाया। मुनरो ने अपनी पारी में 5 चौके और 5 छक्के लगाए।

भारतीय टीम की खराब फील्डिंग

गेंदबाजों के लचर प्रदर्शन के साथ-साथ भारत की फील्डिंग भी काफी घटिया रही है। भारत के फील्डरों ने न्यूजीलैंड की पारी में 2 कैच छोड़े हैं जिसमें से एक कैच कोलिन मुनरो का भी था। न्यूजीलैंड की पारी के 13वें ओवर में खलील अहमद ने हार्दिक पांड्या की गेंद पर कोलिन मुनरो को जीवनदान दिया। इसके बाद रोहित शर्मा ने 18वें ओवर में कॉलिन डि ग्रैंडहोम का कैच छोड़ा।

इसके अलावा फील्डरों ने कई बार मिस फील्ड भी की है। जिससे बाउंड्री ज्यादा निकली है। वहीं कई कैच थोड़े मुश्किल भी थे जिन्हें लिया जा सकता था। वो भी टीम इंडिया ने छोड़े हैं। जिस पर ट्विटर पर भी लोगों ने कड़ी आलोचना की है।

विजय शंकर से गेंदबाजी ना करवाना

इस मैच में रोहित शर्मा की कप्तानी में कई खामियां नजर आई। इस मैच में भारत तीन गेंदबाजों और तीन ऑलराउंडरों के साथ कुल 6 गेंदबाजों के साथ उतरा था। जिनमें से पांच गेंदबाजों ने बॉलिंग की लेकिन रोहित शर्मा ने विजय शंकर को एक भी ओवर नहीं दिया जो भारत को महंगा पड़ा। विजय शंकर की मीडियम पेस गेंदबाजी न्यूजीलैंड को मुश्किल में डाल सकती थी।

टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करना

भारतीय कप्तान रोहित शर्मा ने टॉस जीतकर कीवी टीम को पहले बल्लेबाजी के लिए बुलाया, जो कि एक गलत फैसला साबित हुआ। निर्णायक मुकाबले में भारत को पहले बल्लेबाज कर बड़ा स्कोर बनाना चाहिए था।

Taranjeet Sikka