केदार जाधव ने बुधवार को पाकिस्तान के खिलाफ  तीन विकेट लेकर टीम में शानदार वापसी की है. उन्होने अपनी स्पिन गेंदबाजी से बल्लेबाजों पर दबाव बनाया और उन्हे चलता किया. जाधव ने अपने प्रदर्शन का श्रेय अपनी फिटनेस को दिया और कहा कि वे फिट हैं इसीलिए वे ज्यादा अलग और अच्छे क्रिकेटर हैं.

 

जाधव ने कहा कि उन्होने स्वास्थ्य पर काफी काम किया 

 

पाकिस्तान को आठ विकेट से हराने के बाद मीडिया को संबोधित करते हुए जाधव ने यह सब कहा. जाधव ने कहा कि सर्जरी के बाद से उनकी फिटनेस में काफी ज्यादा सुधार हुआ है और पिछले चार महीनों में उन्होने फिटनेस के विषय में काफी कुछ सीखा है.

 

 

केदार जाधव ने फिटनेस की बात करते हुए कहा कि उन्होने अपने रूटीन में कई मुख्य बदलाव किये. उन्होने कहा कि पहले भी वे जब रिहेब से आते थे तब खेलना शुरू कर देते थे और लगता था कि समस्या फिर नहीं आयेगी.
और अच्छा रूटीन न होने के कारण समस्याएं आती थीं. हालांकि अब वे अपने दिन की शुरुआत जिम से या रनिंग से करते हैं.

 

इससे उन्हे काफी ज्यादा मदद मिलती है और उन्हे आत्म विश्वास मिलता है कि वे दिन पर दिन मजबूत होते जा रहे हैं.
मैं नेट्स में ज्यादा गेंदबाजी नही करता : जाधव 

 

फिनीशर के स्थान पर टीम में शामिल किये गये जाधव टीम में एक अतिरिक्त गेंदबाज बनकर उभरे हैं. उन्होने कई बड़े बड़े बल्लेबाजों को अपनी गेंदबाजी से चकमा दिया है जिस कारण वे मध्य के ओवर में परेशानी का कारण बन जाते हैं.

जाधव ने अपनी गेंदबाजी की सफलता के पीछे का राज बताया. उन्होने कहा कि वे नेट्स में ज्यादा गेंदबाजी नहीं करते. और वे किसी भी मैच के अभ्यास सत्र से पहले केवल 2 ओवर डालते हैं.

 

उन्होने कहा कि अगर वो नेट्स में ज्यादा गेंदबाजी करते हैं तब हो सकता है कि उनकी लय टूट जाए इसलिए वे ऐसा नहीं करते.